9 माह बाद निजी स्कूलों में 10 वीं एवं 12 वीं की कक्षाएं हुई शुरू

0
286

घाटशिला:-करीब एक वर्षों के बाद अनुमंडल के निजी स्कूलों में सोमवार से पुन: शैक्षणिक कार्य शुरू हाे गया। शीतावकाश के बाद स्कूल खुलने के साथ ही 10वीं एवं 12वीं कक्षा के विद्यार्थियों की पढ़ाई भी शुरू हो गई। स्कूल प्रबंधन ने कक्षाएं चालू करने के पूर्व पुख्ता तैयारी कर कक्षाएं शुरू किया है । ताकि कक्षा में आने वाले विद्यार्थियों को सुरक्षा प्रदान किया जा सके। इसके लिए स्कूल कैंपस एवं कक्षा रुम को विधिवत तरीके से सैनेटाइज भी किया गया। साथ ही काेविड-19 के निर्देश के अनुरूप विद्यार्थियों के लिए सीटिंग अरेंजमेंट भी की गई हैं, ताकि दाे छात्राें के बीच एक निश्चित दूरी बनी रही। साथ ही स्कूलों के प्रिंसिपलों की ओर से निर्देश भी जारी किया गया है।

अभिभावकों को स्कूल के समय सारणी की सूचना भी दी गई है

स्कूलों की ओर से अभिभावकों को समय सारिणी की सूचना भी दी गई है । ताकि मालूम हाे कि बाेर्ड परीक्षा से पहले बच्चाें की तैयारी पूरी हाे सके, इसे ध्यान में रखते हुए राज्य सरकार ने 21 दिसंबर से 10वीं और 12वीं की कक्षा शुरू करने का निर्देश दिया था। लेकिन निजी स्कूल शीतावकाश की वजह 4 जनवरी से खुल दिये गये। जानकारी हो कि काेविड 19 की वजह से जहां कुछ स्कूलों में एक साथ बच्चे आएंगे तो कई वैकल्पिक दिन (अल्टरनेट-डे) पर। अन्य कक्षाओं के लिए सरकार बाद में निर्देश जारी करेगी।

कोरोना गाइडलाइन का करना होगा पालन, सबके लिए मास्क जरूरी

सभी विद्यार्थियों को मास्क पहने होने पर ही स्कूल में इंट्री दी जाएगी,स्कूल में इंट्री से पहले सभी का हाथ सैनेटाइज कराया जाएगा,थर्मल स्क्रीनिंग के बाद ही कक्षा में विद्यार्थियों एवं शिक्षकों को प्रवेश दिया जाएगा, बच्चे की तबीयत खराब हाेने पर विभाग को तुरंत सूचना देनी हाेगी।

क्या है स्कूलों की तैयारी

सुबह 8.30 बजे तक इंट्री, 3 घंटे होगी पढ़ाई

15 बच्चों को एक-एक कक्षा में बैठाया जाएगा। बच्चों को सुबह 8.30 बजे स्कूल आना होगा। कक्षाएं 9 बजे से 12 बजे तक चलेंगी। दसवीं कक्षा के बच्चों की छुट्टी दोपहर 12 बजे और 12वीं की दोपहर 12.10 बजे होगी। वही विद्यार्थियों के 19 ग्रुप बनाए गए हैं। एक कक्षा में विषय समाप्त होने के बाद शिक्षक उसी विषय को दूसरी कक्षा में पढ़ाएंगे। अल्टरनेट-डे पर छात्राएं स्कूल आएंगी। वही कुछ स्कूलों में में 15-15 विद्यार्थियों का भी ग्रुप बनाया गया है। जिसमें साइंस व कॉमर्स के विद्यार्थियों के लिए अलग-अलग ग्रुप बनाया गया है।