Sun. Jul 21st, 2024

मृत हाथी का शरीर सड़ जाने के कारण अच्छी तरह से नहीं हुआ पोस्टमार्टम ।गारू

*मृत हाथी का शरीर सड़ जाने के कारण अच्छी तरह से नहीं हुआ पोस्टमार्टम*

 

गारू संवादाता उमेश यादव की रिपोर्ट

पलामू टाइगर रिजर्व के गारू पूर्वी क्षेत्र में मृत हाथी का पोस्टमार्टम करने पहुंचे मेडिकल टीम के अनुसार मेरे खाते का पोस्टमार्टम सही से नहीं हो पाया क्योंकि हाथी का एक्सटर्नल पार्ट सड़ गया था। आगे उन्होंने बताया कि प्रथम दृष्टया यह पता चला कि हाथी की मौत कुछ दिन पहले ही हो चुकी थी। इंस्पेक्शन के क्रम में पाया गया कि लगभग 35 वर्ष की मादा हथिनी गर्भवती थी। अचानक लाइटनिंग क्या किसी कारणवश गिर जाने के क्रम में मौके पर ही गर्भपात हो गया था।

 

 

गारू पूर्वी प्रक्षेत्र के प्रभारी रेंजर अरुण कुमार ने बातचीत में बताया कि, फिलहाल वाह गारू में नहीं है। घटना की सूचना उन्हें मिली है, लेकिन वह अपने स्थाई रेंज बनारी में किसी कार्यक्रम को लेकर व्यस्त है।

 

*किसी भी मीडिया कर्मी को घटनास्थल पर जाने का नहीं मिला इजाजत*

हाथी की मृत्यु की सूचना पाकर सुबह से ही कई मीडियाकर्मी घटनास्थल पर जाने के लिए तैयार थे। परंतु रिजर्व फॉरेस्ट के गेट के पास ही उन्हें रोक दिया गया। सीकड़ गेट के पास तैनात बनकर मैंने बताया कि उन्हें अधिकारियों द्वारा हिदायत दिया गया कि कोई भी व्यक्ति को फुलहर जंगल की तरफ नहीं जाने देना है।

हालांकि पलामू टाइगर रिजर्व दक्षिणी वन प्रमंडल के डीएफओ मुकेश कुमार ने बताया कि किसी भी व्यक्ति को जाने से मना है इसलिए किया गया था ताकि सीन ऑफ क्राइम डिस्टर्ब ना हो। कई दिनों तक वन विभाग को पता नहीं चला इस सवाल का जवाब पर उन्होंने बताया कि, घटना पेट्रोलिंग पथ से कुछ दूरी हटकर हुआ था। इसलिए गंध आने के बाद ही पेट्रोलिंग कर्मियों को पता चला।

 

घटना स्थल पर डायरेक्टर कुमार आशुतोष, डॉ विजय शंकर दुबे आईएफएस, डीएफओ मुकेश कुमार तथा रांची और लातेहार का मेडिकल टीम शामिल थे।

Related Post