Wed. Jul 24th, 2024

पुलिसिया दुर्व्यवहार के ख़िलाफ़ चंदवा के व्यवसायियों में आक्रोश,पहुँचे प्रतुल शाहदेव

*पुलिसिया दुर्व्यवहार के ख़िलाफ़ चंदवा के व्यवसायियों में आक्रोश,पहुँचे प्रतुल शाहदेव*

चंदवा संवाददाता मुकेश कुमार सिंह की रिपोर्ट

सैकड़ो दुकानदारों ने निकाला आक्रोश मार्च, कहा पुलिसिया जुर्म बर्दास्त नहीं

 

 

चंदवा।चंदवा शनिवार की रात चंदवा के प्रतिष्ठित व्यवसायी राम नारायण साहू के साथ बालूमाथ और चंदवा पुलिस के द्वारा किये गए बीच बाजार में मारपीट एवं दुर्व्यवहार का मामला रविवार को तूल पकड़ लिया। सूचना पाकर भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता प्रतुल शाहदेव चंदवा पहुँचे,लोगो से घटना के संबंध में जानकारी ली। दुकानदार अपने-अपने प्रतिष्ठान को बंद कर प्रतुल शाहदेव के नेतृत्व में आक्रोश मार्च निकाला, जो चंदवा थाना तक पहुँची।

 

देखे वीडियो

जहाँ पुलिस ने गेट पर सभी को रोक दिया। प्रतुल ने कहा कि यदि हमारी मांगो को नहीं सुना गया तो हम यही धरना दे देंगे। जिसके बाद 7 लोगों का प्रतिनिधिमंडल को डीएसपी ने आने न्योता दिया। प्रतुल ने कहा कि सभी लोग थाना के अंदर आएंगे लेकिन वार्ता सिर्फ सात लोग करेंगे,पुलिस ने प्रतुल की बात मानी जिसके बाद प्रतिनिधि डीएसपी के संग वार्ता की।

 

*क्या है मामला*

 

चंदवा के एक व्यवसायी को बालूमाथ पुलिस शनिवार की रात गिरफ्तार करने पहुँची थी। राम नारायण साहू को गिरफ्तार करते वक्त पुलिस ने बदतमीजी करना शुरू कर दिया,लोगों ने इसका विरोध कर कारण पूछा तो बताया गया कि वारंट है। लोगों ने वारंट दिखाने की बात कही तो पुलिस मुकर गयी,कहा थाना में वारंट है,लोग जब थाना पहुँचे तो वहां सिर्फ एक नोटिस मात्र था। पीड़ित के पुत्र राजकुमार ने एसआई नीतीश कुमार एवं दिव्य प्रकाश व अन्य पुलिसकर्मियों के विरुद्ध शनिवार की रात ही मामला दर्ज कराया लेकिन इंस्पेक्टर के द्वारा रिसीविंग देने से इंकार कर दिया गया। मारपीट एवं दुर्व्यवहार के ख़िलाफ़ लोगों ने देर रात ही इसकी सूचना प्रतुल शाहदेव को दी।

 

प्रतुल नाथ अपनी बात रखते वीडियो देखे

*निर्दोष पर कार्रवाई हुई तो करेंगे बड़ा आंदोलन :- प्रतुल शाहदेव*

प्रतुल शाहदेव चंदवा पहुंचकर पीड़ित परिवार से मिलने के बाद चंदवा के व्यवसायी के साथ बैठक की। व्यवसायियों ने आशंका जताई कि चंदवा पुलिस बेवजह आम लोगो और दुकानदारों के विरुद्ध फर्जी केस कर कार्रवाई कर सकती है। इस पर प्रतुल शाहदेव ने कहा कि बुजुर्ग व्यवसायी के साथ मारपीट निंदनीय है। पुलिस गुंडागर्दी में उतारू है। यदि किसी भी निर्दोष पर पुलिस कार्रवाई करती है तो बड़ा आंदोलन किया जाएगा। प्रशासन यह नही भूले की इनके ही टैक्स से सारी व्यवस्था चलती है। इनके मान-सम्मान के साथ खिलवाड़ मंजूर नही। यदि जरूरत हुई तो इस मामले में डीजीपी से भी मिलूंगा। सीसीटीवी कैमरा में सारी चीजें रिकॉर्ड है।

 

*क्या हुई वार्ता*

 

प्रतुल संग राजकुमार साहू, राम बाबू,नारायण साहू,अमरदीप प्रसाद,निर्मल शर्मा और महेंद्र साहू ने डीएसपी के साथ वार्ता की। प्रतुल ने स्पष्ट शब्दों में कहा कि पहले पीड़ित परिवार के द्वारा दिया गया एफआईआर को स्वीकार कीजिए और पूरे मामले की निष्पक्ष जांच कीजिए। बिना 41 ए के नोटिस दिए किसी प्रकार की कार्रवाई ना हो इसका आश्वासन दीजिये। डीएसपी लातेहार ने सभी बिंदुओं पर सार्थक आश्वासन दिया। जिसके बाद सभी दुकानदारों ने वापस आकर अपनी अपनी दुकानें खोल ली। मौके पर दूकानदार के अध्यक्ष समेत बड़ी संख्य में दुकानदार उपस्थित थे।

 

Related Post