Sun. Jul 21st, 2024

किसान सहायता फाउंडेशन संस्थान के द्वारा किसानों को दी गई जैविक खेती की जानकारी

 

पोटका प्रखंड के कोवली पंचायत के पीटीदीरी गांव में शीतल वाटिका किसान सहायता फाउंडेशन संस्थान के द्वारा किसानों को दी गई जैविक खेती की जानकारी,
किसानों को जैविक खेती के लाभ एवं रसायनिक खाद्य से होने वाले नुकसान के बारे में बताया गया।जो कि शीतल वाटिका के पोटका प्रखंड समन्वयक राहुल कुमार महतो एवं सचिदानंद महतो जी के द्वारा किया गया। पोटका शीतल वाटिका की प्रयास जैविक खेती के साथ साथ जैविक से खेती करने वाले किसानों बच्चों एवं महिलाओं को शिक्षा एवं सिलाई कढ़ाई के माध्यम से रोजगार उपलब्ध कराना भी है,इस अवसर पर मुख्य रूप से शीतल वाटिका किसान सहायता फाउंडेशन के डायरेक्टर एम • डी फिरोज खान जी ने कहा शीतल वाटिका प्राइवेट लिमिटेड जो कंपनी है वो मुख्य रूप से जैविक खाद्य पदार्थों का उत्पादन करती है, उसी की शहपाठी संस्था है हमारा शीतल वाटिका किसान सहायता फाउंडेशन जिसका निरंतर प्रयास है जैविक कृषि को बढ़ावा देना कहा रसायनिक पदार्थों के नियमित उपयोग से ही आज हम मनुष्यों के जीवन आयु दर में गिरावट हुई है इस अवसर पर कोवली पंचायत समन्वयक सूरज महतो जी साथ निर्मल महतो , रामकृष्ण महतो एवं विभिन्न पंचायतों के समन्वयक मौजूद थे शीतल वाटिका के कार्यकारिणी सदस्य डिस्ट्रिक्ट कोऑर्डिनेटर सरायकेला निराकार प्रधान डिस्ट्रिक्ट कोऑर्डिनेटर पूर्वी फागूराम महतो घाटशिला ब्लॉक कोऑर्डिनेटर पुष्पिता दे जी साथ ही विभिन्न गांवों के ग्रामीण मौजूद रहे।

 

Related Post