Fri. Jul 19th, 2024

माओवादियों के द्वारा तीन दिवसीय बंदी के तीसरे दिन भी महुआडांड़ में में छाया सन्नाटा। बिके सब्जी भाजी।

भाकपा माओवादियों ने पोलित ब्यूरो सदस्य प्रशांत बोस उर्फ किसान दा और उनकी पत्नी शीला मरांडी की गिरफ्तारी और गढ़ चिरौली मुठभेड़ में 26 नक्सलियों के मारे जाने के विरोध में चार राज्यों में तीन दिवसीय बंद की घोषणा की गई थी। जिसमे बिहार, झारखंड, उत्तरी छत्तीसगढ़ और उत्तर प्रदेश का नाम शामिल था।

भाकपा-माओवादी की बिहार-झारखंड-उत्तरी छत्तीसगढ़-उत्तर प्रदेश सीमांत रिजनल कमेटी के प्रवक्ता मानस ने बयान जारी कर 23 से 25 नवंबर तक बिहार, झारखंड, उत्तरी छत्तीसगढ़ व उत्तर प्रदेश में बंद का एलान किया था।

 

महुआडांड़ में बंदी का तीसरे दिन बृहस्पतिवार को भी ब्यापक असर देखने को मिला।महुआडांड़ मुख्य बाजार बस स्टैंड समेत अन्य स्थान पर सन्नाटा पसरा रहा। सभी तरह की दुकानें बंद देखे गए। आवागमन पूरी तरह से बाधित रहा। सारी बसें बस पड़ाव में खड़ी देखी गई। महुआडांड़ से रांची मेदनीनगर गुमला लोहरदगा कुसमी अंबिकापुर छत्तीसगढ़ समेत अन्य स्थानों पर चलने वाली बसों का परिचालन पूर्णतः ठप रहा। वही महुआडांड़ स्थित मेडिकल सम्बंधित दुकानें सरकारी कार्यालय स्कुल कालेज खुले रहे। साथ ही आज हॉट बाजार होने के कारण दूर देहात से सब्जी बेचने आए लोगों के द्वारा तो परियों में सब्जी भेजे जा रही थी।बन्द को लेकर कहीं भी महुआडांड़ प्रखंड क्षेत्र में कहीं भी अप्रिय घटना की सूचना नहीं है। वही बंद को लेकर महुआडांड़ थाना प्रभारी आशुतोष यादव के नेतृत्व में पुलिस प्रशासन मुख्य बाजार समेत चौक चौराहों पर गस्ती कर रही है। बंद के दौरान कहीं भी किसी प्रकार की अप्रिय घटना ना हो जिसे लेकर पुलिस प्रशासन पूरी तरह से मुस्तैद है।

Related Post