Tue. Jul 23rd, 2024

सिंगल डोनर प्लेटलेस रक्तदान के जरिए 11 रक्त दाताओं ने आजादी के अमृत महोत्सव के नाम किया समर्पित इसके साथ प्रतीक संघर्ष फाउंडेशन का एसडीपी रक्तदान के चित्र में298 एसडीपी रक्तदान का आंकड़ा हुआ पूर्ण

 

*जहां प्रतीक संघर्ष फाउंडेशन एवं जमशेदपुर ब्लड बैंक ने आजादी के अमृत महोत्सव के पावन शुभ अवसर पर हर घर तिरंगा एवं जीवनदाई वन कर इस अभियान को यादगार बनाया. वहीं इस अभियान में कुमारेस हाजरा जी ने अपना 30 वा एसडीपी के तहत 70 बा रक्तदान, धीरज कुमार ने 30 वा एसडीपी के साथ 66 बा रक्तदान, अमिताभ चटर्जी जी ने 10 वा एसडीपी के साथ 49 बा रक्तदान, राजन बनर्जी जी ने 13 वा एसडीपी के साथ 23 बा रक्तदान, शुभेंदु मुखर्जी जी ने 5 वा एसडीपी के साथ 37 बा रक्तदान, सुभोजीत मजूमदार जी ने तीसरा ( 3rd ) एसडीपी के साथ 12 वा रक्तदान, सुब्रतो मंडल जी ने चौथा ( 4th ) एसडीपी के साथ 15 वा रक्तदान, मोहन मंडल जी ने पहला ( 1st ) एसडीपी के साथ 15 वा रक्तदान, पी. रामाकृष्णन जी ने दूसरा ( 2nd ) एसडीपी के साथ 9 वा रक्तदान, अजीत प्रसाद जी ने पहला ( 1st ) एसडीपी के साथ 21 वा रक्तदान, एवं तपन महतो ने पहला ( 1st ) एसडीपी के साथ 5 वा रक्तदान करते हुए अमृत महोत्सव के नाम समर्पित किया. इस पावन बेला पर उपस्थित रहे जमशेदपुर ब्लड बैंक के जीएम संजय चौधरी, अनुभवी एवं वरीय डॉक्टर लव बहादुर सिंह, डॉक्टर निर्जला, डॉ रीता सिंह, अनुभवी तकनीशियनओं में मनोज कुमार महतो, अनूप श्रीवास्तव, सुभोजित मजूमदार, सह तकनीशियन में अभिषेक, संटू, स्वपन, एवं निरंतर हर एक रक्त दाताओं के साथ उनके हौसला अफजाई हेतु खड़े रहे प्रतीक संघर्ष फाउंडेशन के निर्देशक अरिजीत सरकार, कुमारेस हाजरा, किशोर साहु, विजोन सरकार.अमृत महोत्सव के पावन शुभ अवसर पर रक्तदान के पश्चात सभी रक्त दाताओं को जमशेदपुर ब्लड बैंक की ओर से प्रशस्ति पत्र के साथ-साथ प्रतीक संघर्ष फाउंडेशन के श्रीमान दीप सेन के द्वारा प्रतीक चिन्ह देकर सम्मानित किया गया. हम सभी के उज्जवल भविष्य हेतु भगवान से प्रार्थना किया गया.

Related Post