Fri. Jul 19th, 2024

पूरा भारत धर्म-स्थान है, मेरा राम तो मेरा हिंदुस्तान है – बन्ना गुप्ता

*जलाराम बापा की 222वीं जयंती में शरीक हुए मंत्री बन्ना गुप्ता*

 

जमशेदपुर, 11 नवंबर। बिष्टुपुर कॉन्ट्रैक्टर एरिया रोड़ नंबर 3 में अवस्थित भक्त श्री जलाराम कुटी मंदिर में संत शिरोमणी जलारामबापा की 222वीं जन्म जयंती का आयोजन पूरी श्रध्दा व उत्साह के साथ किया गया. भक्तों द्वारा बापा की पुजा-अर्चना एवं महाआरती की गई. इस पावन अवसर पर झारखंड के स्वास्थ्य एवं आपदा प्रबंधन मंत्री बन्ना गुप्ता भी आयोजन में शरीक हुए. जलाराम भक्तों द्वारा दुपट्टा उढ़ाकर, प्रसाद व पुष्पगुच्छ प्रदान कर उनका सम्मान किया गया. इसी क्रम में जब बॉम्बे स्वीट मार्ट के संस्थापक जयंती भाई बदीयानी से जब बन्ना जी मिले, तो उनके पाँव छूकर आशीर्वाद लिया एवं कहा कि जयंती भाई उनके पिता के मित्र रहे हैं, इसलिए पितातुल्य हैं. आयोजन समिति ने मुख्यअतिथि के तौर पर उनके बैठने के लिए विशेष सोफा सेट की व्यवस्था की थी, जिसपर बैठने के लिए इंकार करते हुए आम भक्तों के साथ ही बैठे और कहा कि बापा के दरबार में सभी समान हैं, विशेष है़ तो केवल बापा. मंदिर समिति के गुणवंतराय परिख द्वारा स्वागत भाषण के क्रम में यह मांग की कि मंदिर के समक्ष पेवर्स ब्लॉक की सड़क बनवा दी जाए. जिसे विधायक बन्ना गुप्ता ने तुरंत स्वीकार करते हुए निर्देश दिए कि अगले दस दिनों के भीतर यह सड़क बन जाएगी. अपने विद्वतापूर्ण एवं भक्ति भाव से भरे ओजस्वी उदबोधन में मंत्री बन्ना गुप्ता ने कहा कि सनातन धर्म की यही खूबसूरती है़ कि हम भगवान की भी पूजा करते हैं और भक्त की भी पूजा करते हैं. उन्होंने हरिओम पवार की कविता से बात को आगे बढ़ाते हुए कहा कि पूरा भारत धर्म-स्थान है, मेरा राम तो मेरा हिंदुस्तान है. उन्होंने महिलाओं को संबोधित करते हुए कहा कि हमें चिंतन करना होगा कि आखिर बहुएँ क्यों जलाई जा रही है़.

उन्होंने कहा कि राम ने मानवता का जो संदेश दिया, उसे जलाराम बापा ने प्रसारित किया. उन्होंने आश्वासन दिया कि वे समाज के हर अच्छे कार्यों में सदैव साथ हैं. भजन-कीर्तन एवं महिला भक्तो द्वारा गरबा-रास का प्रदर्शन के साथ कार्यक्रम का समापन हुआ. आयोजन में गुणबंत भाई पारीख, विनोद भाई पांडिया, महेंद्र शाह, जितेंद्र वसानी, समीर मकानी, जयंती भाई बदियानी, दीपेन भट्ट, महेंद्र वसानी, सुनील अह्य, कमलेश दोशी, दीपक देसाई, कल्पेश शाह, प्रदीप अजमेरा, अरुण भाई अड्सेरा, विनीता शाह इत्यादि गुजारती व जैन समुदाय के कई लोग उपस्थित थे. साथ ही कमल किशोर अग्रवाल, मुकेश मित्तल एवं संदीप मुरारका भी उपस्थित रहे.

Related Post