Thu. Jul 18th, 2024

विरोध: एबीएम कॉलेज बिना पूर्व सूचना के 3 दिन के लिए बंद, छात्रों ने किया हंगामा, 10 से 12 सितंबर तक दे दी गई है छुट्टी

कोरोना संक्रमण के कारण कॉलेज बंद किया

जमशेदपुर:-एबीएम कॉलेज को बिना किसी सूचना के 3 दिनों के लिए बंद किए जाने पर गुरुवार को अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के नेतृत्व में छात्रों ने हंगामा किया। छात्रों का कहना था कि कोरोना संकट के समय छात्र रिक्स लेकर अलग-अलग जगहों से नामांकन समेत अन्य कार्यों के लिए पहुंचे थे। लेकिन, कॉलेज बंद मिला जिसकी वजह से उन्हें वापस लौटना पड़ा। उनकी मानें तो अगर कॉलेज बंद ही करना था तो इसकी अग्रिम सूचना कॉलेज प्रशासन को देनी चाहिए थी। हालांकि छात्रों के विरोध को देखते हुए कॉलेज प्रशासन की ओर से दोपहर में नोटिस लगा दिया गया जिसमें लिखा गया कि कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए कॉलेज को 10 से 12 सितंबर तक पूरी तरह बंद किया जा रहा है। विरोध प्रदर्शन में छात्र सघ के पूर्व अध्यक्ष प्रेमप्रकाश दुबे दीपक प्रवीण कुमार सचिन प्रकाश तिवारी अजय आदि शामिल थे।

फाइल रुकने के आरोप पर केयू के रजिस्ट्रार ने कहा यह बे बुनियादी 7 दिन के अंदर निपटाते हैं फाइल

झारखंड छात्र मोर्चा द्वारा कोल्हान विश्वविद्यालय के रजिस्टर पर फाइल रोकने के आरोप को रजिस्टर डॉक्टर एसएन सिंह ने खारिज कर दिया। उन्होंने कहा कि कोई भी फाइल उनके कार्यालय में 1 सप्ताह तक नहीं रुकती है। यहां तो 8 महीने की बात है। उन्होंने कहा कि छात्र मोर्चा द्वारा जो भी आरोप लगाया गया है वह बेबुनियाद एवं सत्य से परे है। भेज इस मामले की बात कर रहे हैं उस मामले में विश्वविद्यालय ने राज्यपाल को पहले ही सूचित कर दिया है। झारखंड छात्र मोर्चा ने यह आरोप लगाया था कि जनवरी में ही उन्होंने विधायक मंगल कालिंदी को जल्ला कॉलेज पटमदा की समिति में शामिल करने के लिए आवेदन दिया था। लेकिन रजिस्ट्रार कार्यालय ने उसे रोक कर रखा है।

Related Post