Fri. Jul 19th, 2024

आसनबनी ग्रामप्रधान सह भूमाफिया प्रबोध उरांव,जानलेवा खेला कर फरार

चांडिल चांडिल थाना क्षेत्र आसनबानी में शंकर महतो पर जानलेवा हमले के, पीछे असली वजह करोड़ो रुपए की जमीन कारोबार में , वर्चर्श्व की है लड़ाई, ये अभी रील है फिल्म बाकी है. गौरतलब है की झारखंड बनने के बाद जमशेदपुर के उद्योगपतियों, भू माफिया की नजर आसनबानी,तामुलिया, चिलगु, भादुडीह पंचायत सहित कपाली अंतर्गत सरकारी परती भूमि, आदिवासी सी. एन. टी. हो या वन विभाग की जमीन पर काली नजर पड़ गई . और स्थानीय पंचायत जनप्रतिनिधि , हो या विभिन्न राजनीति दलों के पदाधिकारी आजसू, भाजपा,कांग्रेस झामुमो के सफेदपोश नेताओं को जमीन खरीद फोख्त से होने वाली लाखो की कमाई का चस्का कहे या कहे शेर को इंसान के खून का स्वाद लगा दिया, ये पूरी घटना ट्रेलर है . सूत्रो की माने तो शंकर महतो पर जानलेवा हमले में ग्राम प्रधान प्रबोध उरांव ने सुनियोजित तरीके से ग्रामीणों को उकसा दिया और अनहोनी घटना कहे या गेंगवार का ही छोट रूप दिखा कर बस्ती में ताकत दिखाई .अब हिंसक प्रदर्शन कर ग्राम प्रधान प्रबोध उरांव ने नई दिशा दे दी है . आगे अब यह क्षेत्र शांत रहेगा, और भाई चारा क्या बना रहेगा ? यह सबसे बड़ा सवाल बन गया है. पूरे प्रकरण में प्रखंड अंचल से लेकर जिला तक पुलिस प्रशासन का रवैया अभी तक संदेहास्पद है .

ग्राम प्रधान प्रबोध उरांव सहित 6 पर जानलेवा हमले का मामला दर्ज।

 

टाटा मेन हॉस्पिटल में घायल सलीम पटेल के फर्द बयान के आधार 6 नामदर्ज अभियुक्तों -1. ग्राम प्रधान प्रबोध उरांव,2. भाई फ्लारी उरांव , 3.बुधेस्वर मांझी,4. निरंजन उरांव,5 दुर्गा उरांव 6 मनोज उरांव शामिल है.दूसरी ओर। चांडिल थाने में प्रबोध उरांव के अनुज फलारी उरांव,घोड़ानेगी मुखिया बादल उरांव ने मामला दर्ज किया है. थाना प्रभारी वरुण यादव ने बताया मामले का अनुसंधान चल रहा है .इधर गंभीर घायल शंकर महतो को देखने टाटा हॉस्पिटल में आजसू नेता हरे लाल महतो ,महंत विद्यानंद सरस्वती ,दिलीप महतो मधु सूदन गोराई आदि सुध लेने पहुंचे .

Related Post