Sat. Jul 20th, 2024

युवा राजकुमार ने रांची में इलाजरत 11 दिनों के एक बच्चे के लिए एसडीपी रक्तदान करते हुए निभाया मानव धर्म

 

जमशेदपुर ब्लड बैंक एवं प्रतीक संघर्ष फाउंडेशन के आह्वान पर हम सबों के हर दिल अजीज छोटे भाई स्वरूप युवा पीढ़ी के प्रेरणास्रोत 19 वर्षीय सोनारी निवासी ” राजकुमार ” ने जमशेदपुर ब्लड बैंक पहुंचकर अपना पहला सिंगल डोनर प्लेटलेट्स यानी एसडीपी रक्तदान करते हुए अपना द्वितीय स्वैच्छिक एवं सुरक्षित रक्तदान के आंकड़े को पूर्ण किया. इतने कम उम्र में रक्तदान के प्रति अपने मामा से प्रेरित होकर जिस तरह से तत्परता दिखाते हुए एक छोटे से नन्हे बच्चे के लिए, जमशेदपुर ब्लड बैंक पहुंचकर अपना पहला एसडीपी रक्तदान किया, ये युवा पीढ़ी के राजकुमार के द्वारा किया गया अतुलनीय योगदान, जो उनके परिवार के द्वारा दिया गया शिक्षा एवं संस्कार को बयां करता है. आज रक्तदान के पश्चात जमशेदपुर ब्लड बैंक एवं प्रतीक संघर्ष फाउंडेशन की ओर से उन्हें प्रशस्ति पत्र एवं प्रतीक चिन्ह देकर सम्मानित किया गया. वहीं इस पावन बेला पर जमशेदपुर ब्लड बैंक के जीएम संजय चौधरी, प्रतीक संघर्ष फाउंडेशन के निर्देशक अरिजीत सरकार, ब्लड बैंक के वरीय चिकित्सक डॉक्टर निर्जला, अनुभवी तकनीशियन अनूप कुमार श्रीवास्तव, धीरज कुमार, सह तकनीशियन विशाल एवं शुभंकर. उपस्थित रहे

Related Post