Fri. Jul 19th, 2024

मनिका प्रखंड में मनरेगा योजनाओं में हुई गड़बड़ी को लेकर डीडीसी ने किया जांच।

*मनिका प्रखंड में मनरेगा योजनाओं में हुई गड़बड़ी को लेकर डीडीसी ने किया जांच।*

राहुल पांडे की रिपोर्ट

प्रखंड प्रमुख ने मनरेगा योजना की जांच के लिए डीसी को दिया था आवेदन।

 

24 अगस्त को अखबार में मनरेगा के नाडेप योजना में हुई गड़बड़ी की छापी गई थी खबर।

 

मनिका। मनिका प्रखंड मुख्यालय अंतर्गत स्थित जुंगूर पंचायत में मनरेगा के नाडेप योजना में हुई गड़बड़ी को लेकर जिला प्रशासन ने संज्ञान लिया है। ज्ञात हो कि 23 अगस्त को मनिका प्रखंड प्रमुख प्रतिमा देवी के द्वारा मनरेगा के नाडेप योजना के जांच के लिए लातेहार डीसी भोर सिंह यादव को आवेदन सौंपी गई थी। जिसके बाद 24 अगस्त को अखबार में नाडेप योजना में हुई गड़बड़ी से संबंधित खबर विस्तार पूर्वक छपी थी। जिसके बाद मामले को संज्ञान में लेते हुए जिला प्रशासन ने मनरेगा योजना में हुई गड़बड़ी की जांच प्रतिक्रिया शुरू कर दिया है। मालूम हो कि मनिका प्रखंड कार्यालय के बीपीओ तरसीला टोप्पो के द्वारा बिचौलियों के साथ मिलीभगत कर जुंगुर पंचायत में 1.2 लाख की 12 नाडेप योजना को एडिट कर 13 लाख के टीसीबी योजना में परिवर्तित कर जान्हों पंचायत में स्थानांतरित कर दी गई थी। जिसके विरोध में जांच करने हेतु प्रखंड प्रमुख के द्वारा लातेहार डीसी को आवेदन दिया गया था।आज दिन मंगलवार को लातेहार जिला के डीडीसी सुरेंद्र कुमार वर्मा ने प्रखंड कार्यालय मनिका पहुंचकर मनरेगा योजना में हो रही लगातार गड़बड़ी को लेकर प्रखंड स्तरीय अधिकारियों एवं मनरेगा योजना के संबंधित कर्मियों को फटकार लगाया। और उनसे सख्ती से योजनाओं के संबंध में पूछताछ की। साथ ही योजनाओं के फाइलों की भी जांच किए गए। नाडेप योजना में हुई गड़बड़ी के संबंध में पूछे जाने पर डीडीसी सुरेंद्र कुमार वर्मा ने कहा कि मामले की जांच की जा रही है। इस मामले से संबंधित कर्मियों को दोषी पाए जाने पर प्रशासनिक कार्रवाई की जाएगी।मौके पर बीडीओ वीरेंद्र किंडो,मनरेगा से संबंधित अधिकारी,समेत कई लोग उपस्थित थे।

Related Post