Wed. Jul 24th, 2024

संत जेवियर्स महाविद्यालय के कन्या छात्रावास में धूम धाम से मनाया गया छात्रावास का स्थापना दिवस एवं संत अन्ना पर्व।

संत जेवियर्स महाविद्यालय के कन्या छात्रावास में धूम धाम से मनाया गया छात्रावास का स्थापना दिवस एवं संत अन्ना पर्व।

महुआडांड़ संवाददाता शहजाद आलम की रिपोर्ट

महुआडांड़ संत जेवियर्स महाविद्यालय के महिला छात्रावास में संत अन्ना पर्व और छात्रावास का स्थापना दिवस धूमधाम से मनाया गया। ज्ञात हो कि पांच साल पहले अन्ना समाज के प्रोविंशियल सुप्रियर सिस्टर कुसुमा एवं सहायक प्रोविंशियल सिस्टर प्रदीपा की अगुवाई में छात्रावास का शुरुआत किया गया था। अन्ना समाज ने छात्रावास के सफल संचालन के लिए विशाखापट्टनम से सिस्टर कैसलीन, सिस्टर निर्मला और सिस्टर मरियाना को भेजा था। अन्ना का अर्थ है ईश्वर की कृपा या वरदान। इन सिस्टरो ने व्यवस्थित तथा अनुशासित प्रयास एवं क्षमता से छात्रावास को खड़ा किया। जो महुआडांड़ जैसे सुदूरवर्ती, जनजातीय, पिछड़ा क्षेत्र के छात्राओं तक शिक्षा का प्रसार करने में अपनी भूमिका निभा रहा है। छात्रावास में लड़कियों के लिए सभी तरह की सुविधाएं उपलब्ध हैं जैसे पुस्तकालय बिजली, पानी, खेल के मैदान आदि।

कार्यक्रम के शुरुआत में सिस्टर कैसलीन ने सभी मेहमानों का स्वागत किया। फादर साइमन ने मुख्य अनुष्ठाता के रूप में पूजा अर्चना करवाया। इस अवसर पर छात्रावास के छात्राओं के द्वारा रंगा- रंग कार्यक्रम पेश किया गया। छात्रावास को स्थापित करने में अग्रणी भूमिका निभाने वाली सिस्टर कुसुमा का निधन हाल ही में हुआ है, सभी प्रोफेसरों और छात्राओं ने उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित किया और उनके कार्यों एवं विचारों को याद किया। महाविद्यालय को आगे बढ़ाने में संत अन्ना सिस्टरो का बहुत बड़ा योगदान रहा है।कार्यक्रम के अंत में छात्रावास अधीक्षक सिस्टर लीजा ने सभी को धन्यवाद किया। मौके पर महाविद्यालय के प्राचार्य फादर डॉ. एम. के जोस और फादर ज्ञान भी उपस्थित थे। प्राचार्य महोदय ने सभी को संत अन्ना पर्व की शुभकामनाएं दी साथ ही सिस्टरो के कार्यों एवं प्रयासों की सराहना की। कार्यक्रम का सफल संचालन प्रो. शालिनी बाड़ा, अर्पिता और अंकिता ने किया। कार्यक्रम में मुख्य रूप से सिस्टर कैसलिन, सि. चंद्रोदया, सि. प्रतिमा, मनीषा बाखला, अंजना एक्का, शेफाली प्रकाश और सुरभी सिन्हा उपस्थित थे।

Related Post