Wed. Jul 24th, 2024

हरियाणा के प्रसिद्ध लेखक को चंदवा में स्वागत किया गया। 

हरियाणा के प्रसिद्ध लेखक को चंदवा में स्वागत किया गया।

चंदवा संवाददाता मुकेश कुमार सिंह की रिपोर्ट

चंदवा। झारखंड दौरे पर आए हरियाणा के प्रसिद्ध लेखक श्री रजनीश मित्तल जी का ग्रीन फील्ड एकेडमी चंदवा के सभागार में भव्य स्वागत किया गया । चंदवा के समाजसेवी श्री राजेश चंद्र पांडे श्री मनोज कुमार सिंह ( पप्पू सर ) श्री जन्मजय प्रसाद तथा ग्रीन फील्ड एकेडमी के प्राचार्य श्रीमती अनुराधा जी ने माल्यार्पण कर श्री रजनीश मित्तल जी का स्वागत किया। श्री मित्तल जी ने ग्रीन फील्ड एकेडमी पुस्तकालय को अपनी पुस्तक ‘ कछुओं का महायुद्ध ‘ प्रथम भाग समर्पित किया तथा चंदवा के लेखक श्री विनीत कुमार जी ने अपनी आठवीं पुस्तक कहानी संग्रह ‘ कुसुम ‘ इस पुस्तकालय को समर्पित की । एंबीशन संस्कृति क्लब के श्री मोहिनीश जी एवं श्री वेदांत जी ने पौधा समर्पित कर श्री मित्तल जी का अभिनंदन किया । उपस्थित सदस्यों में ग्रीन फील्ड एकेडमी के विद्यालय परिवार सहित अन्य गणमान्य लोग भी उपस्थित थे। उपस्थित वक्ताओं से एक सुर में यह मुद्दा सामने आया कि हमारे राज्य का कोई साहित्य अकैडमी संस्था गठित नहीं हुआ है , जिसका गठन होना चाहिए । उन्होंने झारखंड सरकार से मांग किया है कि झारखंड साहित्य अकैडमी भी गठित हो , जिससे साहित्य के प्रति लोगों का रुझान बढ़े और साहित्य विधा से समाज को लाभ मिले । इन्हीं कमियों के कारण आज का पाठक साहित्य से दूर होता जा रहा है । मंच संचालन करते हुए चंदवा के लेखक श्री विनीत जी ने सूचना दिया कि झारखंड यात्रा में आए श्री रजनीश मित्तल जी का झारखंड के अन्य कई जगहों पर श्री मित्तल जी का कार्यक्रम तय है। श्री मित्तल जी ने कहा कि झारखंड की प्राकृतिक सुषमा एवं यहां के लोगों के प्यार ने मुझे यहां खींच लाया । झारखंड यात्रा का मकसद झारखंड पर साहित्य सृजन करना है। उन्होंने यहां के लोगों का आभार व्यक्त करते हुए संपूर्ण झारखंडियों एवं चंदवा वासियों को साधुवाद दिया । श्री मित्तल जी का अगला कार्यक्रम यहां के लेखक श्री विनीत कुमार जी के जन्मभूमि चेटर गांव में है।

Related Post