Tue. Jul 23rd, 2024

सिंहभूम चैम्बर ने विदेश मंत्रालय का किया ध्यानाकृष्ट, जमशेदपुर पासपोर्ट सेवा केन्द्र की क्षमता बढ़ाने का किया अनुरोध

जमशेदपुर, 4 मई, 2022।

आज सिंहभूम चैम्बर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री के अध्यक्ष विजय आनंद मूनका एवं मानद महासचिव ने विदेश मंत्रालय, भारत सरकार से अनुरोध किया है कि जमशेदपुर स्थित पासपोर्ट सेवा केन्द्र में वर्तमान में प्रतिदिन पासपोर्ट बनाने का जो कोटा 60 है वह जमशेदपुर की आबादी और पासपोर्ट बनवाने की क्षमता को देखते हुये नाकाफी है। इस कम कोटे के कारण जमशेदपुर वासियों को पासपोर्ट बनाने के आवेदन करने के बाद उसे प्राप्त करने में एक महीने से ज्यादा का वक्त लग रहा है। जबकि झारखण्ड के अन्य जिलों में स्थित पासपोर्ट सेवा केन्द्रों में यह कोटा जमशेदपुर के कोटे से ज्यादा है और वहां पासपोर्ट आवेदन के एक-दो दिनों के अंदर ही आवेदनकर्ता को पासपोर्ट निर्गत कर दिया जाता है। इसलिये जमशेदपुर पासपोर्ट सेवा केन्द्र के कोटे को भी बढ़ाकर 200 किया जाय।

अभी के वर्तमान कोटे हिसाब से पासपोर्ट बनाने के आवेदन देने पर इसे बनाने में एक महीने से उपर का वक्त लग जाने के कारण यहां से बाहर जाकर अपनी पढ़ाई पूरी करने वाले छात्र-छात्राओं और यहां के व्यापारियांे/उद्यमियों जिनका कि विदेशों में व्यापार चल रहा है या जो नये व्यापार विदेशी कंपनियों के साथ करना चाह रहे हैं उनके लिये समस्यायें खड़ी हो जा रही है। क्योंकि इन छात्रों को समय पर पासर्पोट नहीं मिलने से समय पर विदेशी संस्थानों में एडमिशन नहीं मिल रहा हैं और उद्यमी/व्यवसायी भी समय पर विदेशी कंपनियों का दौरा नहीं कर पा रहे हैं।

इसलिये चैम्बर अध्यक्ष और मानद महासचिव ने जमशेदपुर की छात्र-छात्राओं और उद्यमी/व्यापारियों की इन परेशानियों के मद्देनजर विदेश मंत्रालय, भारत सरकार का इस ओर ध्यानाकृष्ट किया है।

Related Post