Thu. Jul 25th, 2024

भु माफिया ने साज़िश कर जूठा केश में फंसाया,फिर जमीन का फर्जी पेपर बनाकर थाना के मिली भगत से किया कब्जा

*भु माफिया ने साज़िश कर जूठा केश में फंसाया,फिर जमीन का फर्जी पेपर बनाकर थाना के मिली भगत से किया कब्जा*

 

 

हज़ारीबाग:सिंदूर निवासी महेंद्र प्रसाद मेहता ने कोर्रा थाना हजारीबाग को लिखित कम्प्लेन किया है की मेरी जमीन खन्ना बॉडी बिल्डर्स के पास जिसमे खाता संख्या 21,प्लाट संख्या 1398 रकवा 25 डिसमिल एवं 92 डिसमिल एवं बगल में दूसरा जमीन जिसका खाता संख्या 43,प्लाट नम्बर 2446 जो एक दूसरे से सटा हुआ है उस जमीन पर दो कमरा बना हुआ था जिसमे महेंद्र प्रसाद मेहता छोटी गाड़ियों का कार्य करते थे,लेकिन जमीन माफिया इंद्रदेव मेहता,सुरेश मेहता सिंदूर थाना कोर्रा के मिलीभगत से जमीन हड़पने के नियत से झूठा मारपीट के केश में फंसाकर जेल भेज दिया गया,तीन महीने का मौका मिला और फर्जी कागज बनाकर जमीन हड़प लिया है और दो रूम का जो कमरा था वह तोड़ कर नया बाउंड्री वाल करते हुए गेट लगा दिया गया है , महेंद्र प्रसाद मेहता ने आवेदन में यह भी लिखा है की मेरा गैरेज तोड़कर सब समान चोरी कर लिया गया , जब महेंद्र जेल से छूटा तो अपने जमीन पर गया और आस पास के लोगो से पता चला कि मेरा जमीन का बाउंड्री और घर कौन तोड़ा तो लोगो ने कहा की सुरेश मेहता,दीपक मेहता, और बड़कू तीनो के पिता नागेस्वर महतो ,नागेस्वर महतो पिता स्वर्गीय बाबू महतो ने मिलकर चहारदीवारी तोड़ा है ,जब महेंद्र उनलोगों से सम्पर्क करना चाहा तो वो लोग घर पर नही मीले ,जिसकी सूचना महेंद्र कोर्रा थाना में देने गया लेकिन रामनवमी के कारण थाना में कोई नही मिला और इसी रामनवमी के फायदा उठाकर उक्त जमीन पर नवमी दसमी को जेसीबी लगाकर थोड़ फोड़ किया जा रहा था । महेंद्र मेहता ने यह भी कहा की जमीन का सभी डीड मेरा सत्य है और सिविलकोर्ट से मेरे तरफ में फाइनल डिग्री भी है ,मेरा सभी कागजात सही है फिर भी भूमाफियाओं ने जमीन पर थाना के मिलीभगत से दबंगई पूर्वक कब्जा कर लिया,जब भी महेंद्र प्रसाद मेहता जमीन पर जाते है तो मार पीट कर भगा देते है । उन्होंने थाना प्रभारी कोर्रा जिला के पुलिस अधीक्षक,उपायुक्त हज़ारीबाग, एवं डीजीपी झारखंड,माननीय मुख्यमंत्री झारखंड को भी प्रतिलिपि देते हुए कार्यवाही की मांग की है ।

Related Post