Tue. Jul 23rd, 2024

साम्प्रदायिक सौहार्द का मिशाल किया पेश, जूलूस शामिल रामभक्तों के लिए पेयजल का किया व्यवस्था।गंगा यमुना तहजीब महुआडांड़ में आप आज भी है जिन्दा।

 

साम्प्रदायिक सौहार्द का मिशाल किया पेश, जूलूस शामिल रामभक्तों के लिए पेयजल का किया व्यवस्था।गंगा यमुना तहजीब महुआडांड़ में आप आज भी है जिन्दा।

 

महुआडांड में सभी समुदाय के लोग आपसी प्रेम और भाईचारे के साथ मिलकर एक दूसरे का त्योहार मनाते आ रहे हैं। और आगे भी साथ मिलकर मनाते रहेंगे। रामनवमी पर्व को लेकर मदिना मस्जिद के सदर मो. परवेज आलम ने आपसी साम्प्रदायिक सौहार्द का मिशाल पेश किया। मदिना मस्जिद के सदर मो. परवेज आलम ने रामनवमी जुलूस में शामिल रामभक्तों के लिए पेयजल की व्यवस्था की। इससे प्रतीत होता है कि महुआडांड़ में आज भी गंगा यमुना तहजीब जिन्दा है। इसका मिशाल मदिना मस्जिद के सदर मो. परवेज आलम के द्वारा पेश किया गया।

Related Post