Tue. Jul 23rd, 2024

मदरशा खैरुल उलुम चंदवा में जश्न सालाना कार्यक्रम का आयोजन

मदरशा खैरुल उलुम चंदवा में जश्न सालाना कार्यक्रम का आयोजन

चंदवा संवाददाता मुकेश कुमार सिंह की रिपोर्ट

 

चंदवा24 मार्च 2022 को चंदवा के तिलैयाटांड़ में मदरशा खैरुल उलुम में बुधवार की रात जश्न सालाना की कार्यक्रम का आयोजन किया गया, इसका आगाज मो0 रागिब ने कुर्आन की तिलावत से की,

इस अवसर पर नात मुशायरा का आयोजन किया गया,

नात मो0 रागीब, अब्दुल हाशीम, मो0 जैद, मो0 अल्ताफ अपने नात पढ़ते हुए कहा कि

ये धरती जगमगाती है वो अंबर जगमगाता है, दुरूदे पाक पढ़ने से मुकद्दर जगमगाता है,

जो हो चुका है जो होगा रसूल जानते हैं, खुदाये पाक का मंशा रसूल जानते हैं,

सुनाकर लोगों के दिलों को रोशन करने का प्रयास नात पढने वालों ने किया,

जश्न सालाना कार्यक्रम में बेहतर नात गजल प्रस्तुत करने, इंग्लिश में बेहतर आने वाले बच्चों को पुरस्कृत किया गया जिसमें प्रथम पुरस्कार मो0 अजीजुर रहमान, दुतिय पुरस्कार मो0 आतिफ, तृतीय पुरस्कार मो0 सलमान, चतुर्थ पुरस्कार मो0 ओसामा, पंचम पुरस्कार मो0 फैजान, छठा पुरस्कार मो0 गुलजार, सप्तम पुरस्कार पुरस्कार अबु रेहान को दिया गया,

हाफिज मो0 एहसान, सामाजिक कार्यकर्ता सह झामुमो के केंद्रीय समिति सदस्य दीपु कुमार सिन्हा, काजी हिफजुर्रहमान, मुफ्ती मो0 गुलजार, मौलाना मो0 रिजवान दानिश ने अपने तकरीर में कहा कि आज मां बाप अपने खाने पीने में कटौती कर बच्चों को पढ़ाने और तालीम के लिए मदरशा भेजते हैं ताकि बच्चे पढ़ लिखकर होनहार बने, अपने भविष्य को उज्जवल करें, समाज में जागरूकता लाते हुए लोगों को दिन इमान में रखें, सच का साथ दें, गरीब मजलुमो को मदद करें, पांच वक्त का नमाज पढे, खैरात जकात दें इसी का नाम इस्लाम धर्म है, इस्लाम धर्म मानव कल्याण है,

देश में शांति और अमन तथा तरक्की के लिए दुआ के साथ यह कार्यक्रम संपन्न हुआ,

इस मौके पर हाजी मो0 तौफीक, इरसाद मुन्ना, मो0 मुबारक, मो0 सरफराज, मो0 नेशार, कारी वहाजुल हक, मनसुर टेलर, हाजी मो0 महमुद, शिक्षक अनिस, मास्टर यासीन, मो0 इरफान सज्जु, मो0 आलम, मदरशा के शिक्षक, छात्र सहित बड़ी संख्या में लोगों ने शिरकत की।

Related Post