प्रदेश में अपराधियों का मनोबल हाई, अब रांची में पुलिस पर अपराधियों ने की हमला

0
467
फोटो :घटनास्थल पर जुटी पुलिस बल।
रांची:प्रदेश में अपराधियों का मनोबल धीरे धीरे बहुत तेजी से आगे बढ रहा है जो अब पुलिस पर भी हमला करने लगे हैं। शनिवार की रात की है जो गोंदा थाना क्षेत्र की वंसत विहार कॉलोनी में छह-सात बदमाश युवकों ने पुलिस टीम पर पत्थरों से अचानक हमला करना चालू कर दिया। अपराधियों के द्वारा किए गए पथराव में दो पुलिसकर्मी घायल हो गए। उनलोगों ने पुलिस जीप को भी क्षतिग्रस्त कर दिया। मौके की नजाकत को देख पुलिस बल को पीछे हटना पड़ा। इसी बीच एक पुलिसकर्मी ने वरीय अधिकारियों को घटना की सूचना दी। जब अतिरिक्त बल वहां पहुंचा, तो अपराधी वहां से भाग चुके थे। लेकिन एएसआई विनय कुमार साव के बयान पर थाना में मनीष ओझा, प्रशांत सिंह समेत अन्य छह आरोपितों के खिलाफ गोंदा थाने में मामला दर्ज कर  उन बदमाशों के ठिकानों पर पुलिस छापेमारी कर रही है लेकिन अपराधी पुलिस के पहुंच से अभी भी दूर हैं। वही गोंदा पुलिस के अनुसार शनिवार रात आठ बजे सूचना मिली कि बसंत विहार कॉलोनी में डॉ. बीपी सिन्हा के घर के पास कुछ लोग जुटे हैं। किसी अनहोनी की आशंका से गश्ती पुलिस को सूचना दी गई। गश्ती दल जब वहां पहुंचा और एक जगह जमा होने का कारण पूछा, तो वे लोग पुलिस से उलझते हुए गाली-गलौज करने लगे। एएसआइ विनय साव ने प्रशांत सिंह को पकड़ा, तो सभी बदमाश उन पर टूट पड़े। अन्य पुलिसकर्मी जब उनके बचाव के लिए बढ़े, तो उनलोगों ने पत्थर बरसाना शुरू कर दिया। जब अतिरिक्त बल बुलाया गया, तब सभी वहां से भाग गए। बताया जा रहा है कि पुलिस के जाने के बाद अपराधी फिर कॉलोनी में आ धमके थे और कई घरों पर भी पत्थर चलाए थे एवं सड़क किनारे खड़ी  गाडिय़ों को भी तोडफ़ोड़ किया। यह बता दें कि इसके पहले कुछ दिनों पहले भी  जमशेदपुर में भी कुछ ऐसी घटनाएं घट चुकी है जिसमें पुलिस को निशाना बनाया गया मानगो थाना क्षेत्र में अपराधी को पकड़ने गई पुलिस वैन पर अपराधियों ने तलवार से हमला कर दिया था। इसके अलावा प्रदेश में ही एक जगह आबकारी विभाग की टीम जो कि शराब माफियाओं के खिलाफ अभियान चलाने गई थी उन पर भी शराब माफियाओं ने हमला कर दिया था जिसमें कई पुलिसकर्मी घायल हुए थे। इसके अलावा जमशेदपुर के ही बारीनगर में बकरीद की पूर्व संध्या प्रतिबंधित पशु को रखने की सूचना पर गई पुलिस टीम पर भी अपराधियों ने हमला बोला था और पथराव भी किया था। इसके अलावा रविवार को ही हजारीबाग में भी पुलिस टीम पर हमला और पथराव किया था।
बहरहाल प्रदेश में अपराधियों का मनोबल इस कदर धीरे धीरे बढ़ता जा रहा है कि वे पुलिस पर भी हमला करने से नहीं कतरा रहे हैं आए दिन ऐसी घटनाओं की खबरें मिलती रहती है। जो कि भविष्य के लिए काफी खतरनाक साबित हो सकती है।