Sat. Jul 13th, 2024

बोड़ाम में राजाराम की हत्या का मामला: अवैध संबंध के कारण योजना बनाकर की गई थी हत्या, 9 आरोपी गिरफ्तार

जमशेदपुर।

पूर्वी सिंहभूम जिले के पटमदा के खेरूआ टोला पलमा का रहने वाला राजाराम सोरेन का शव 10 जून को बोड़ाम के दलमा जंगल से पुलिस ने बरामद किया था । पुलिसिया जांच के बाद इस मामले में बोड़ाम पुलिस को सफलता हाथ लगी है।अवैध संबंध के कारण राजाराम की हत्या योजना बनाकर की गई थी। वहीं इस मामले मे पुलिस ने घटना में शामिल महिला समेत कुल 9 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

 

शव पगदा-लायलम जंगल के बीच से मिला था

 

राजाराम रोजाना जमशेदपुर जाकर मजदूरी करता था। 9 जून को भी वह घर से मजदूरी करने की बात कहकर ही निकला हुआ था।इसके बाद वह घर नहीं लौटा। 10 जून को पगदा-लायलम के बीच दलमा जंगल से उसका शव पुलिस ने बरामद की थी।इसके बाद परिजनों ने उसकी पहचान की थी।

 

महिला के घर था आना-जाना

 

पुलिसिया जांच में पता चला कि राजाराम का बोड़ाम की एक महिला के घर पर आना-जाना होता था। इसके बाद पुलिस ने उस महिला से पूछताछ की।पूछताछ में ही यह बात सामने आई कि राजाराम की हत्या योजना बनाकर की गई थी। उसकी पीट-पीट कर हत्या करने के बाद शव को जंगल के बीच जाकर फेंक दिया गया था।

 

चौकीदार के बयान पर हुआ था मामला दर्ज

 

इस मामले में स्थानीय चौकीदार के बयान पर बोड़ाम थाने में अज्ञात के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कराया गया था।इसके बाद पुलिस की जांच में सबकुछ साफ हो गया।राजाराम अपने चार भाईयों में सबसे छोटा था।उसकी पत्नी की चार साल पहले ही मौत हो चुकी थी।

Related Post