Mon. Jul 22nd, 2024

आइटीडीए निदेशक विंदेश्वरी ततमा के कुशल नेतृत्व का असर* *समेकित जनजाति विकास अभिकरण से संचालित योजनाओं लाभ पहुंचने लगा लाभूको तक

*आइटीडीए निदेशक विंदेश्वरी ततमा के कुशल नेतृत्व का असर*

 

*समेकित जनजाति विकास अभिकरण से संचालित योजनाओं लाभ पहुंचने लगा लाभूको तक*

लातेहार अजय सिन्हा की रिपोर्ट

*140 लाभूको को मिला मुख्यमंत्री स्वास्थ्य सहायता योजना का लाभ*

 

*एसएसीए एसीएसपी योजना के तहत जिले के दस अनुसूचित* *जाति के ग्रामों में सोलर डिकिंग वाहर सिस्टम का हुआ अधिष्ठापन*

 

*मुख्यमंत्री पशुधन विकास योजना के तहत 500 सौ लाभूकों को किया गया है लाभवान्वित*

 

लातेहार :-केन्द्र एवं राज्य सरकार सिर्फ योजना बनाती है उसे धरातल पर उतार कर लाभूको को लाभवान्वित करने की पूरी जिम्मेवारी प्रशासनिक पदाधिकारियों पर ही निर्भर होती है,अगर जिले में अधिकारी कर्तब्यनिष्ठ एवं ईमानदार हो तभी केन्द्र एवं राज्य सरकार की योजनाओं का लाभ लाभूको को मिल पाता है एवं सरकार के उदेश्य की पूर्ति हो पाती है,ऐसे ही एक अधिकारी लातेहार में पदस्थापित है आइटीडीए निदेशक विंदेश्वरी ततमा जो अपने कर्तब्यनिष्ठ होने के साथ सरकार की संचालित योजनाओं को धरातल पर उतारने को लेकर जिम्मेवार है। आइटीडीए निदेशक विंदेश्वरी ततमा के कुशल नेतृत्व का ही असर है कि समेकित जनजाति विकास अभिकरण से संचालित योजनाओं का लाभ अंतिम पायादन पर खड़े आदिवासी सामुदाय के लोगों को मिलने लगा है,जिससे उनके जीवन विकास के पथ पर बढ़ने लगा है।

 

*68618 छा़त्र-छात्राओं को प्री मैट्रिक छात्रवृति का मिला है लाभ,12731 बच्चों को साइकिल देने का हुआ है अनुमोदन*

 

आइटीडीए निदेशक विंदेश्वरी ततमा के कुशल नेतृत्व के कारण जिले के 68618 छात्र-छात्राओं को छात्रवृति का भुगतान किया जा चूका है,जबकि जिले के 12731 बच्चों को साइकिल देने के प्रस्ताव को अनुमोदित कर आदिवासी कल्याण आयुक्त झारखंड सरकार रांची को आवंटन के लिए प्रस्ताव भेजा गया है। सबसे सुखद पहलू यह है कि कल्याण विभाग से मुख्यमंत्री स्वास्थ्य सहायता योजना का लाभ पहले बहुत ही कम लाभूको को ही मिल पाता था लेकिन श्री ततमा के द्वारा योजना के लाभ के लिए लाभूको को विशेष जागरूकता अभियान चलाया गया जिसके कारण योजना के लाभ से जिले के 140 लाभूको को लाभवान्वित किया गया। मुख्यमंत्री पशुधन विकास योजना के तहत 500 सौ लाभूकों को लाभवान्वित किया जा चूका है। इसके अलावे अत्याचार निवारण अधियिम के तहत 37 लाभूको को लाभ पहुंचाया गया,जबकि 12 लाभूको को वैधिक सहायता मद से लाभूको को लाभ मिला। एसएसीए एसीएसपी योजना के तहत जिले के दस अनुसूचित जाति के ग्रामों में सोलर डिकिंग वाहर सिस्टम का हुआ अधिष्ठापन किया गया है। वही अल्वयं,ष्कसें कसे लिए कियोस्क बनाए गए है। इसके अलावे धुमुकुडिया भवन,सरना,मसना,चाहरदीवारी निर्माण,वनधिकार पटटा समेत अन्य योजनाओं के लाभ से भी लाभूको को लाभवान्वित किया गया है।

 

*अंतिम व्यक्ति तक संचालित योजनाओं का लाभ पहुंचाना लक्ष्य………….विंदेश्वरी ततमा,आइटीडीए निदेशक,लातेहार*

 

आइटीडीए निदेशक विंदेश्वरी ततमा ने कहा है कि अनुसुचित जाति,अनुसूचित जनजाति,अल्पसंख्यक एवं पिछड़ा वर्ग के लाभूको को कल्याण विभाग से संचालित योजनाओं का दिलाना लक्ष्य है। उन्होंने कहा कि विभागीय प्रयास है कि एक भी वैसा सुयोग्य लाभूक लाभ से वंचित नहीं हो जो योजना का हकदार है।

Related Post