Fri. Jul 26th, 2024

कथामृत उत्सव चतुर्थ दिन बुरुडीह गांव में आयोजित

 

माताजी आश्रम हाता द्वारा आयोजित आठ द्विवसीय रामकृष्ण कथामृत उत्सव का चतुर्थ दिन आज दिनांक 10 जुलाई को बुरुडीह गांव में आयोजन किया गया।इसका आयोजन स्वपन मंडल ने किया। संध्या 6.30 बजे ठाकुर जी की संध्या आरती के साथ अनुष्ठान शुरू हुई।आरती पंडित सुधांशु मिश्र ने की।उसके बाद सुनील कुमार दे ने उपस्थित सभी भक्तजनो को स्वागत करते हुए कहा,गांव गांव में कथामृत उत्सव सह सत्संग का आयोजन कर रहे हैं इसका मुख्य उद्देश्य लोगो के अंदर भक्ति भाव और ईश्वर प्रीति जगाना है।इसके अलावे भगवान रामकृष्ण देव का उदार धार्मिक विचार, धार्मिक एकता और मानव प्रेम को प्रचार करना है।उसके बाद शंकर चंद्र गोप ने महेंद्र गुप्त की महान जीवनी पर प्रकाश डाला।उसके बाद बादल मामा ने रामकृष्ण कथामृत पाठ किया।उन्होंने कहा,,भगवान रामकृष्ण देव जी ने धर्म को बहुत ही सरल बना दिया है।उन्होंने कहा,,भगवान न मठ में न मंदिर में,न जंगल में न पहाड़ पर्वत में रहते हैं,भगवान तो बस भक्त के हृदय में निवास करते हैं।भक्त जनों की रच्छा और उनके साथ लीला करने के लिए अवतार के रूप में मानव शरीर धारण करके हर युग में आते हैं।इस युग में रामकृष्ण रूप धारण आये थे।उसके बाद मा सारदा देवी और स्वामी विवेकानंद की जीवनी पाठ किया गया।उसके बाद भक्ति गीति प्रस्तुत की गई जिसमें पतित पावन दास, प्रवीर दास, तड़ित मंडल,भास्कर दे,,कमल कांति घोष,सुनील कुमार दे ,सहदेब मंडल,मुकुल मंडल और माताजी आश्रम के भक्त मोहिलाओ ने भाग लिया।एस अबसर पर सुधांशु मिश्र,राजकुमार साहू,उज्वल मंडल आदि ने भी अपना अपना विचार रखे।उसके बाद हरिनाम संकीर्तन के साथ अनुष्ठान का समापन हुआ।अंत मे धन्यवाद ज्ञापन स्वपन मंडल ने किया।इस अबसर पर लोचना मंडल,काजल मंडल,बेला रानी मंडल,संतोष मंडल,तपन कुमार मंडल,,भास्कर दे,स्वपन दे,साबित्री गोप,कृष्ण कांत मंडल,सहदेब मंडल,तपन मंडल,बुलु रानी मंडल,मोहितोष मंडल,बुलु मंडल,छबि रानी मंडल,मनोज मंडल,प्रसन्त मंडल,मंजुश्री सरकार,हिरण महतो,दिलीप महतो,तपन मंडल,सोना भाई, सुधांशु मिश्र, के अलावे बिभिन्न गांव के भक्तगण काफी संख्या में उपस्थित थे।

Related Post