Mon. Jul 22nd, 2024

सिंहभूम चैम्बर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री में शनिवार को आयेाजित होने वाले टैक्स क्लिनिक का आयोजन किया गया। आज इस क्लिनिक में आयकर और जीएसटी के विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की गई।

 

 

सिंहभूम चैम्बर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री में शनिवार को आयेाजित होने वाले टैक्स क्लिनिक का आयोजन किया गया। आज इस क्लिनिक में आयकर और जीएसटी के विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की गई।

सर्वप्रथम उपाध्यक्ष, वित्त एवं कराधान सीए दिलीप गोलछा द्वारा सभी उपस्थित पेशेवरों एवं सदस्यों का स्वागत किया गया। तत्पश्चात अधिवक्ता राजीव अग्रवाल द्वारा बताया गया कि तकनीकि खामियों की वजह से सेन्ट्रल जीएसटी से संबंधित दायर अपील केन्द्रीय कर अधिकारियों के पोर्टल पर उपलब्ध नहीं होता है अतः अभी भी अपील प्राप्ति रसीद (एपीएल-2) एवं अपील निष्पादन का आदेश (एपीएल-04) केन्द्रीय कर अधिकारियों द्वारा ऑनलाईन न देकर मैनुअल तरीके से ही दिया जा रहा है। इससे व्यापारियों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

राजेश अग्रवाल, अधिवक्ता द्वारा बताया गया कि महाराष्ट्र सरकार ने अपने पदाधिकारियों को एक आंतरिक पत्र के माध्यम से आदेश दिया है कि वित्तीय वर्ष 2017-18 एवं 2018-19 की अवधियों के लिये जीएसटीआर 1-3बी एवं जीएसटीआर 2ए-3बी के मिसमैच के मामलों में सहानुभूतिपूर्ण रवैया अपनायें एवं सीए सर्टिफिकेट, ऑडिट रिर्पोट तथा अन्य कागजातों के आधार पर उक्त मामलों का निष्पादन करें। बैठक में यह निर्णय लिया गया कि सिंहभूम चैम्बर भी झारखण्ड सरकार से उक्त आदेश के आलोक में यह मांग करेगा कि झारखण्ड में भी सरकार ऐसा आदेश अपने अधिकारियों को दे।

कोषाध्यक्ष किशोर गोलछा ने केन्द्र सरकार से अनुरोध करने का आग्रह किया कि जीएसटी रिफंड के तमाम मामलों में आयकर के तर्ज पर ब्याज का प्रावधान भी होना चाहिए।

इसके अलावा विभिन्न मुद्दों जैसे कि अपील के वक्त दस प्रतिशत जमा राशि का अपील निष्पादन के बाद स्वतः वापस न किया जाना एवं रिफंड प्रोसेस के माध्यम से व्यापारियों को उक्त रकम की प्राप्ति के लिये बाध्य करना, जिला में केन्द्रीय जीएसटी अपील कोर्ट का न होना आदि के बारे में चर्चा की गई। सेक्शन 16-4 के अनुसार आईटीसी लेने की आखरी तारीख के प्रावधान का पूर्व की अवधियों के लिये भी 30 नवंबर तक का समय निर्धारित करने के लिये भी चैम्बर प्रयास करेगा।

सचिव, वित्त एवं कराधान पीयूष कुमार चौधरी ने सभी सुझावों को केन्द्रीय एवं राज्य सरकार तक पहुंचाने का आश्वासन दिया। उन्हांेने यह भी बताया कि केन्द्रीय जीएसटी विभाग द्वारा सिंहभूम चैम्बर ऑफ कॉमर्स की सहायता से एक नुक्कड़ नाटक बिष्टुपुर बाजार में सोमवार, 6 जून को संध्या 4.00 बजे आयोजित किया जायेगा। उन्होंने सभी व्यापारियों एवं पेशेवरों से उक्त नुक्कड़ सभा में उपस्थित होने का आग्रह किया।

आज की बैठक की अध्यक्षता टैक्स कमिटि के सह-अध्यक्ष एवं चैम्बर के पूर्व अध्यक्ष श्री सुरेश सोंथालिया ने की। बैठक के अंत में धन्यवाद ज्ञापन वित्त एवं कराधान के सचिव पीयूष कुमार चौधरी, अधिवक्ता ने दिया।

उक्त टैक्स क्लिनिक में अध्यक्ष विजय आनंद मूनका, महा- सचिव मानव केडिया, उपाध्यक्ष महेश सोंथालिया, सचिव अनिल मोदी, सचिव सावरमल शर्मा, सचिव भरत मकानी, विनोद शर्मा, सीए जगदीश खंडेलवाल, सीए मनीष केडिया, सत्यनारायण अग्रवाल (मुन्ना) एवं भारी संख्या में व्यापारी एवं उद्यमी उपस्थित रहे।

Related Post