Fri. Jul 26th, 2024

भु रैयतों ने बैठक कर आदित्य बिरला कंपनी के गलत नितियों का कड़ा विरोध जताया ।हिंडाल्को कम्पनी दलालो के माध्यम से भू रैयतों को छलने का काम कर रही है: दीपू सिन्हा

भु रैयतों ने बैठक कर आदित्य बिरला कंपनी के गलत नितियों का कड़ा विरोध जताया

 

*हिंडाल्को कम्पनी दलालो के माध्यम से भू रैयतों को छलने का काम कर रही है: दीपू सिन्हा**

चंदवा संवाददाता मुकेश कुमार सिंह की रिपोर्ट

चंदवा। चकला ग्राम में इलाके की किसान भु रैयतों ने हिंडाल्को के आदित्य बिरला कंपनी के द्वारा दलालों के माध्यम से कोल ब्लॉक के जमीन अधिग्रहण किए जाने के खिलाफ एक विशाल बैठक एवं सभा का आयोजन किया गया,इसकी अध्यक्षता चकला ग्राम के प्रधान फुलदेव मुंडा एवं संचालन सुरेश राम ने किया, बैठक में आमंत्रित अतिथि के रूप में जेएमएम के केंद्रीय समिति सदस्य दीपू कुमार सिन्हा, कांग्रेस प्रखंड अध्यक्ष सह राज्यसभा सांसद प्रतिनिधि असगर खान एवं माकपा के वरिष्ठ नेता एवं कामता पंचायत समिति सदस्य अयुब खान उपस्थित थे,

सभा को संबोधित करते हुए झामुमो केंद्रीय समिति सदस्य दीपू कुमार सिन्हा ने कहा क कंपनी अपने कुछ चहेते लोगों से मिल बैठकर रैयतों से औने पौने दाम में जमीन लेना चाह रही है, दलाल और कंपनी साजिश कर रैयतों को अहित कर रही है,

गांव गांव में एकजुटता रखें, कंपनी के ग़लत नितियों से लोगों को अवगत कराएं,

कंपनी पहले गांव में उद्योग लगाए, पुनर्वास की व्यवस्था करे, रोजगार और नौकरी की गारंटी करे तभी किसानों से कंपनी बात करे, इलाके में कई कंपनियां भी आई आई पहले कहा कि उचित मुआवजा देंगे, नौकरी रोजगार देंगे, क्षेत्र में खुशहाली आएगी लेकिन आज किया हुआ हस्र आज सबके सामने है, कंपनी लोगों की भावनाओं का ख्याल रखे राज्य में लोकप्रिय हेमंत सोरेन की सरकार है, यह पांचवीं अनुसूची क्षेत्र है यहां ग्राम सभा सर्वोपरी है, किसान रैयतों को कोई ठग नहीं पाएगा हमारी झामुमो पार्टी किसान रैयतों के साथ है किसी के साथ अन्याय होने नहीं दी जाएगा। चकला निवासी एवं कांग्रेस के प्रखंड अध्यक्ष असगर खान ने कहा कि कंपनी गांव में शिलाई का प्रशिक्षण देकर और पढाई चालु करवाकर गांव के बच्चे तथा बच्चियों को यह दिखाने का काम कर रही है की कम्पनी आपके हित में कार्य कर रही जबकि ये केवल दिखावा जैसा दिखाई दे रहा है। कम्पनी के ऐसे कार्य से ग्रामीण जनता नाराज है। महाबीर भगत, बालकिसुन राम, कमल भुइंया, सतार खान, पप्पु खान, मो0 शब्बु, शीतल साव, संजीव कुमार साव, रोहित भगत, महाबीर भगत, अहमद खान, खलील मियां, अख्तर खान, मोकतार खान, नौसाद खान, रामचंद्र साव, राजु उरांव, तारा लाल उरांव, सुरेन्द्र उरांव, सधन उरांव, अजय मुंडा, महाबीर माझी, मोकतार खान ने कहा कि आप सभी एकजुट रहें, आज अभिजीत और एस्सार ग्रुप के के पास किसान भु रैयतों ने जमीन बेची पैसा पाया लेकिन हुआ यह कि जमीन भी चला गया पैसा भी आज गांव और लोग बदहाली के कगार पर है,।

माकपा के वरिष्ठ नेता सह कामता पंचायत समिति सदस्य अयुब खान ने कहा कि आदित्य बिरला की किसान व रैयत विरोधी नीति का कड़ा विरोध किया जाएगा, जरुरत पड़ी तो आदित्य बिरला कंपनी का घेराव भी जाएगा,

बैठक में कंपनी के विरोध में सभी टोलों में बैठक रखने, वर्तमान में कोल माइंस के लिए जमीन नहीं देने, बिना भुमि रैयत के सहमति के कंपनी की फैसले का विरोध करने, कंपनी के कार्यों का विरोध करने का प्रस्ताव सर्वसम्मति से पारित किया गया,

इधर हिंडाल्को कम्पनी के प्रबंधन ने कहा कि कम्पनी भु रैयतो से बात करने को तैयार है।

मौके पर प्रकाश राम, निर्मल उरांव, महादेव उरांव, लाल सहाय उरांव, करमा उरांव, राजकुमार भगत, सकेंद्र उरांव, सोहन लोहरा, अनुज मुंडा, करीमन अंसारी, समसुददीन मियां, जसमुददीन खान, अकबर हुसैन, बीनोद महतो, मुरत लोहरा, हरिहर सिंह, रविन्द्र ठाकुर, गुड्डू सिंह, मुस्तर खान, बकरीद मियां, पवन कुमार राम, मंटु राम, लोचन राम, सधन मुंडा, लोचन राम, तेतरा उरांव, हरिमोहन साव, धनेश साहु, रुपेंद्र राम, सतलु मियां, राहुल कुमार, विकास कुमार, नागेंद्र सिंह, गोलु खान, आसित कुमार, अजय सिंह, साजीद खान,चंद्र शेखर सिंह, अफसर मियां, मुस्ताक खान, अनीस अंसारी, मो0 जाकीर, संजय उरांव, लालु उरांव, चलितर साव, महरंग भुइंया, अब्दुल कयूम, जयनाथ माझी, फिरोज खान, कैलाश राम, राम चंद्र साव, बिहारी उरांव, शेखावत मियां, हफीज मियां सहित बड़ी संख्या किसान रैयत शामिल थे।

Related Post