Sun. Jul 21st, 2024

एनटीपीसी से विस्थापित एवं प्रभावित 18 गांव के सैकड़ों लोग हुए गोलबंद* *पहली प्राथमिकता विस्थापित प्रभावित लोगों को रोजगार दे कंपनी :– रोशनलाल चौधरी

*एनटीपीसी से विस्थापित एवं प्रभावित 18 गांव के सैकड़ों लोग हुए गोलबंद*

 

*पहली प्राथमिकता विस्थापित प्रभावित लोगों को रोजगार दे कंपनी :– रोशनलाल चौधरी*

 

*सैकड़ों लोगों ने किया एनटीपीसी में रोजगार हेतु अहम बैठक*

 

आज दिन रविवार को एक बैठक विस्थापित प्रभावित एकता के द्वारा किया गया जिसकी अध्यक्षता प्रदीप कुमार महतो तथा संचालन कामेश्वर महतो ने किया।

इस बैठक के मुख्य अतिथि आजसू पार्टी के केंद्रीय महासचिव सह बड़कागांव विधानसभा प्रभारी माननीय श्री रोशनलाल चौधरी जी उपस्थित हुए।

सभा को संबोधित करते हुए रोशनलाल चौधरी ने कहा कि एनटीपीसी तथा उसके अंतर्गत चल रहे त्रिवेणी सैनिक यहां के विस्थापितों एवं प्रभावितों को सर्वप्रथम रोजगार के साथ इनका जो मूल हक व अधिकार है वह इन्हें देने का काम करें। जितने भी यहां के मूल रैयत है उनके हर एक घर से विस्थापितों को नौकरी दे।

हम यहां के कंपनी का विरोध नहीं करते हैं बल्कि स्वागत करते हैं बशर्ते कि हमारे जो विस्थापित प्रभावित मूल रैयत है उनका सही हक व अधिकार मिले। अगर ऐसा नहीं होता है तो हम सभी विस्थापित प्रभावित गोलबंद हैं कंपनी को आंदोलन का सामना करना पड़ेगा।

बैठक में मुख्य रूप से 18 गांव के लोग गोलबंद हुए। बैठक में यह निर्णय लिया गया कि कंपनी द्वारा जो प्रेस विज्ञप्ति निकाला गया है जिसे यहां के विस्थापित प्रभावित ग्रामीण उसका समर्थन करती है तथा माह दिसंबर तक यह संकल्प पूरा करें तथा वर्तमान में जो ड्राइवर को बहाली किया गया उसमें लोकल को 30% लिया गया तथा 70% बाहरी लोगों को लिया गया।जिससे यहां के ग्रामीण असंतुष्ट है। साथ ही साथ ड्राइवर ऑपरेटर इलेक्ट्रिशियन ग्राउंड बेंज कन्वेयर बेल्ट तथा सिक्योरिटी गार्ड में बहाली हर हाल में हो तथा कंपनी को विस्थापित प्रभावित लोगों को रोजगार में सुनिश्चित करने की कोशिश हो अगर ऐसा नहीं हुआ तो हम सभी ग्रामीण आंदोलन के लिए बाध्य होंगे।

Related Post