Sat. Jul 13th, 2024

पोटका जिप सदस्य श्रीमती प्रतिमा रानी मंडल द्वारा जिले के माननीय उपायुक्त को अनुरोध किया गया कि विधवाओं की पेंशन स्वीकृति में आई मंदी में भी तेजी लाई जाए

पोटका जिप सदस्य श्रीमती प्रतिमा रानी मंडल अपनी आवासीय कार्यालय में मीडिया के माध्यम से बात रखी की पूर्वी सिंहभूम के माननीय उपायुक्त  60 वर्ष या उस से अधिक उम्र वाले सभी जरूरतमंद वृद्ध वृद्धाओं से 26 जुलाई से 5 अगस्त तक सभी पंचायतों में कैम्प लगाकर आवेदन लेकर पेंसन की स्वकृति देने की निर्देश दि गई है – जो प्रशंसनीय पहल है, – इसके लिये जिला उपायुक्त धन्यवाद के पात्र है। – लेकिन इसके साथ साथ जिला उपायुक्त तथा केंद्र एवं राज्य सरकार से मेरा अनुरोध ये भी होगा की – 1) विधवाओं की पेंसन स्वीकृति में आई मंदी में भी तेजी लाई जाय । सिर्फ वृद्ध ही नही विधवाओं की स्थिति भी दयनीय होती है। 2) साथ ही समाज में और एक प्रकार के बंचित महिलाएँ रहती हैं जिन्हें आज तक सरकार नजर अंदाज करती आई है वे हैं – ” पति परित्यक्तायें ” – इनकी परिचिति ना तो ” विधवा ” में और ना ही ” सधवा ” में होती है। – इनके अनेकों के पास छोटे छोटे बच्चें भी होते हैं – आज के समय में भी बिशेष कर ग्रामीण क्षेत्र में विभिन्न कारणों से घटित ऐसी घटनाओं के शिकार अक्सर देखा जाता है – लेकिन सरकार की पेंसन प्रणाली में इनके लिए कोई स्थान / प्रावधान नहीं रहने के कारण इनकी दुःखद दशा की भी मूक दर्शक बनकर रहना पड़ता है – अनुरोध है क्षमता सम्पन्न जनप्रतिनिधिओं के द्वारा उक्त गंभीर नारी समस्या को सरकार तक पंहुचायी जाय तथा सामाजिक सुरक्षा के तहत इनकी भी पेंसन की समुचित प्रावधान हों। 3) आर्थिक, सामाजिक, शारीरिक विभिन्न कारणों से शादी से बंचित अनेकों महिलाएं भी जिनकी उम्र 40 पार होते होते शर से माता पिता का साया उठ जाने के बाद बिल्कुल ही बेसहारा हो जाती है – ऐसे में इन्हें भी सामाजिक सुरक्षा की शक्त जरूरत है –   श्रीमती प्रतिमा रानियों मंडल ने मांग कि की – केंद्र एवं राज्य दोनों जगह में मानसून सत्र शुरू होने वाली है हमारे जनप्रतिनिधि समस्याओं को समुचित ढंग से पोर्टल में रखें और सरकार जनहित में इस पर प्रस्ताव लायें ।

Related Post