Sun. Jul 21st, 2024

बिहार में पत्रकार की हत्या सरकार के गाल पर तमाचा है-प्रीतम भाटिया

सुरक्षा कानून और बीमा भूल स्वार्थसिद्धि में व्यस्त हैं सत्ता और विपक्ष

जमशेदपुर:ऑल इंडिया स्मॉल एंड मीडियम जर्नलिस्ट वैलफेयर एसोसिएशन के राष्ट्रीय महासचिव प्रीतम सिंह भाटिया ने बिहार में पत्रकार शिव शंकर झा की हत्या पर कड़ी प्रतिक्रिया जताई है.श्री भाटिया ने ट्विटर पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, नेता प्रतिपक्ष राहुल गांधी और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को भी टैग कर घटना की निंदा की है.

उन्होंने खुलकर लिखा है कि देश में पत्रकार सुरक्षा कानून और बीमा भूल कर नेता अपने वेतन,पेंशन,आवास और आकर्षक माहौल बनाने में व्यस्त हैं.

उन्होंने कहा कि पत्रकारों की हत्याएं होती रहेंगी,फर्जी मामले भी दर्ज होते रहेंगे लेकिन सत्ता और विपक्ष मुद्दे पर चुप्पी साध कर बस आश्वासन और तारीख पर तारीख देते रहेंगे.उन्होने कहा कि बिहार के मुजफ्फरपुर में पत्रकार शिव शंकर झा की हत्या सरकार के गाल पर तमाचा है.

श्री भाटिया ने कहा कि पत्रकारों की हत्या में शामिल अपराधियों को सीधे गोली मारी जानी चाहिए क्योंकि आज जब चौथा स्तंभ ही सुरक्षित नहीं रहेगा तो आम आदमी की आवाज सरकार तक कैसे पहुंचेगी.

कुछ ही दिनों पहले श्री भाटिया ने बिहार और झारखंड में बढ़ते अपराध पर यूपी पुलिस की कार्रवाई को उदाहरण बताया था.उन्होने यूपी में एनकाउंटर को जायज ठहराते हुए झारखंड और बिहार में भी अपराधियों को मुंहतोड़ जवाब देने की जरूरत बताते हुए ट्विटर पर अविभाजित बिहार में आईपीएस और वर्तमान में कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता डॉक्टर अजय कुमार की कार्यशैली का अपराधियों पर अंकुश लगाने के तरीके को वर्तमान में लागू करवाने जाने का उदाहरण भी दिया था.

 

Related Post