Thu. Jul 18th, 2024

कोल्हान सहित पूरे राज्य में बालू की किल्लत से विकास कार्य हो रहे हैं ठप-सिंहभूम चैम्बर

सिंहभूम चैम्बर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री ने कोल्हान सहित पूरे राज्य में बालू की किल्लत से हो रही विकास के कार्यों में रूकावट और अन्य समस्याओं को लेकर राज्य के मुख्यमंत्री चम्पई सोरेन का पत्र के माध्यम से ध्यानाकृष्ट कराते हुये जल्द से जल्द से इसे दूर करने का आग्रह किया है। यह जानकारी मानद महासचिव मानव केडिया ने दी।

 

अध्यक्ष विजय आनंद मूनका ने कहा कि पिछले कुछ महीनों से कोल्हान समेत पूरे राज्य में बालू की किल्लत देखी जा रही है। राज्य के विकास हेतु चल रहे बड़े निर्माण कार्यों जैसे, उद्योग हेतु फैक्ट्री/प्लांट्स, सड़क के साथ बिल्डर्स एवं रियल स्टेट के कार्यों को पूरा करने हेतु बालू कि अति आवश्यकता है लेकिन पिछले कुछ महीनों से राज्य में बालू की किल्लत हो जाने से यह सभी निर्माण के कार्यों में जो तेजी आनी चाहिए थी वो नहीं हो पा रही है तथा कुछ निर्माण कार्य पूरी तरह से ठप पड़े हैं। इससे राज्य के विकास की गति भी रूक गई है और राज्य के राजस्व में क्षति हो रही है। इसलिये जल्द से जल्द इसकी किल्लत को राज्य सरकार के द्वारा उचित कदम उठाते हुये दूर किया जाना चाहिए।

 

चैम्बर उपाध्यक्ष पुनीत कांवटिया एवं सचिव बिनोद शर्मा ने बताया कि बालू की कमी से छोटे-मोटे पूर्व निर्मित भवन, घर मरम्मतीकरण के कार्य जैसे टाईल्स, पाईप फिटिंग्स एवं अन्य दूसरे कार्यों में रूकावट आ रही है। इस क्षेत्र से जुड़े दूसरे सामानों के व्यापार में भी गिरावट देखी जा रही है। फलस्वरूप इस क्षेत्र से जुड़े व्यवसायी, कामगारों, छोटे दिहाड़ी मजदूरों और इनसे संबंधित लाखों लोगों की आर्थिक स्थिति प्रभावित हो रही है और राज्य में बेरोजगारी बढ़ने की भी आशंका है।

 

चैम्बर के अन्य पदाधिकारियों उपाध्यक्ष अनिल मोदी, अधिवक्ता राजीव अग्रवाल, अभिषेक अग्रवाल गोल्डी, सचिव भरत मकानी, अंशुल रिंगसिया, सुरेश शर्मा लिपु एवं कोषाध्यक्ष अनिल रिंगसिया ने भी कोल्हान एवं राज्य में बालू की किल्लत से ठप पड़े विकास कार्यों में तेजी लाने के लिये जल्द से जल्द बालू की किल्लत को दूर करने का आग्रह राज्य के मुख्यमंत्री से किया है।

Related Post