Thu. Jul 18th, 2024

पैसों के पीछे दौड़ रहा मन ,रोगों से पीड़ित है सबका तन,योग को तुम अपनाओं , क्योंकि स्वास्थ्य हीं सबसे बड़ा धन – दीपाली पराशर

मांडर :-माण्डर स्थित भारथी गु्रप ऑफ़ इंस्टिट्यूशन में योग दिवस मनाया गया। अपने उदगार व्यक्त करते हुए निदेशक नितिन पराशर ने छात्रों को बताया कि योग भारतीय प्राचीन परम्परा का एक अमूल्य उपहार है। प्रत्येक वर्ष 21 जून को अन्तराष्ट्रीय योग दिवस मनाया जाता है। यह दिमाग और शरीर का एकता का प्रतीक है । भारत को योग का जन्मदाता माना जाता है। योग एक ऐसी क्रिया है जो मनुष्य को शारीरिक एवं मानसिक रूप से स्वस्थ एवं मजबूत बनाता है। इस दिवस को मनाने का श्रेय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी को जाता है। इनके निरंतर प्रयास से 21 जून 2015 को पहली बार योग दिवस मनाया गया। इस दिवस को मनाने का उदेश्य सभी लोगों को योग से जोड़ना है और योग के प्रति प्रोत्साहित करना है । मुख्य अतिथि के रूप में सचिव नितिन पराशर तथा प्राचार्या दीपाली पराशर उपस्थित थी। मौके पर डीन उपेन्द्र उपाध्याय नर्सिंग की प्राचार्या निहारिका श्रीवास्तव, व्याख्यता राकेश कुमार राय, मधुरंजन , विनीता चैधरी, रिभा कुमारी, अमित कुमार, विनीत शर्मा, सुबोध शर्मा, सहाय सर, सुनील कुमार, सलमान अंसारी, इमरोज एवं सभी छात्र/छात्राएं उपस्थित थे।

Related Post