Sun. Apr 14th, 2024

उत्पादन:-2 माह के भीतर खुलेगा सूरदा माइन्स, पर आईसीसी में 2021 के से शुरू होगा उत्पादन

एचसीएल के सीएमडी अरुण कुमार शुक्ला ने यूनियन महामंत्री को पत्र लिखकर दी जानकार

घाटशिला:-एचसीएल की मऊ भंडारी स्थित यूनिट इंडियन कॉपर कंपलेक्स (आईसीसी) के प्लांट में वित्तीय वर्ष 2021-22 से उत्पादन काम शुरू हो सकता है। चालू वित्तीय वर्ष 2020- 21 उत्पादन संभव नहीं है। वर्तमान परिस्थिति में प्लांट 60 से 70% ही चल पाएगी जो कंपनी के लिए नुकसानदायक साबित होगा। यह जानकारी एचसीएल के सीएमडी अरुण कुमार शुक्ला ने आईसीसी वर्कर्स यूनियन के महासचिव ओमप्रकाश सिंह को लिखे पत्र में दी है। इस संबंध में आईसीसी वर्कर्स यूनियन के महासचिव ओमप्रकाश सिंह ने बताया कि आईसीसी में 9 दिसंबर 2019 से उत्पादन कार्य बंद है। इससे ठेका मजदूरों को सही से महीने भर रोजगार नहीं मिल पा रहा है। एसीसी प्लांट को लेकर तरह-तरह की अटकलें लगनी शुरू हो गई थी। इसे लेकर उन्होंने 12 मई और 21 जुलाई को सीएमडी को पत्र लिखकर स्थिति स्पष्ट करने की मांग की थी।इसके बाद सीएमडी अरुण कुमार शुक्ला ने पत्र भेजकर प्लांट से जुड़ी रणनीति की जानकारी दी। सीएमडी ने पत्र में बताया है- प्रबंधन आईसीसी प्लांट चालू करने को उत्सुक है। हालांक चालू वित्तीय वर्ष में यह संभव नहीं है। एचसीएल की मलाजखंड एवं खेतड़ी यूनिट स्थित खदानों में अयस्क का सही से उत्पादन नहीं हो रहा है। सूरदा माइन्स में भी एक अप्रैल 2020 से लीज के कारण उत्पादन बंद है। वर्तमान समय में प्लांट में मात्र 60 से 70% ही उत्पादन हो सकता है। तैयार माल को बेचने में भी 45 से 60 दिन का समय लगेगा जो कंपनी के हित में नहीं है ‌। अगले वित्तीय वर्ष तक मुलाज खंड में पूरी क्षमता के साथ उत्पादन होने की उम्मीद है। ऐसे में अगले वित्तीय वर्ष से ही एसीसी प्लांट में उत्पादन कार्य शुरू किया जा सकता है।

घाटशिला:-कमलेश सिंह

Related Post