Sat. May 25th, 2024

जमशेदपुर में आस्था और मानव प्रेम मिलकर बना इतिहास, किरणमई जयंती उत्सव के नाम हुआ समर्पित,

महा सप्तमी, जमशेदपुर में फिर से बना नया कीर्तिमान. विगत 3 बर्षो से कोरोना ने अपना कहर बरपाया और इस बर्ष पुरा शहर डेंगू के कहर को झेल रहा है. हर दिन प्लेटलेट्स की जरूरत हो रहा है. और सबसे महत्वपूर्ण पूजा के दौरान रक्तदान शिविर भी नहीं हो पाता. परन्तु अस्पताल में इलाजरत जरुरतमंद को समय पर प्लेटलेट्स भी देना है, जो कि हर दिन के रक्तदान से ही सम्भव हो सकता है. तभी पीएसएफ के निर्देशक अरिजीत सरकार एवं जमशेदपुर ब्लड सेंटर के जीएम- संजय चौधरी जी ने अनोखा पहल करते हुए कुछ स्थानीय पूजा कमेटियों से आपातकालीन सेवा प्रदान करने हेतु निवेदन किया. परन्तु कईयों ने पुजा में व्यस्तता कहा. परन्तु यह भी कटु सत्य है ” जीवे प्रेम करे जेई जोन- सेई जोन सेविशे इश्वर ” साथ निभाया मां की आराधना के साथ साथ मानव सेवा को ही सर्वोपरि रखते हुए कदमा ओल्ड फॉर्म एरिया सार्वजनिन दुर्गा पूजा कमेटी एवं प्रतीक संघर्ष फाउंडेशन के सदस्यों ने. और जमशेदपुर के इतिहास में पहली बार एक बार कहने भर मात्र से ही महा सप्तमी के दिन पूजा मंडप में ही रक्तदान शिविर का आयोजन कर मानवता का मिसाल पेश कर दिया. पहला बार इस आयोजन को सफल बनाने में अरिजीत सरकार- निर्देशक- प्रतीक संघर्ष फाउंडेशन सह सदस्य कदमा ओल्ड फॉर्म, कमेटी के संरक्षक दिलीप कुमार कर ऊर्फ बच्चू दा, कालु मुखर्जी, हरेन मुखर्जी, प्रणव विश्वास, देवजीत सरकार, राजा बनर्जी, सोमनाथ गिरी, राजेश राव, सौरभ ओझा, रीतम घोष, संदीपन, किरण एवं रंजीत के साथ साथ कई सदस्यों ने अपना महत्वपूर्ण योगदान दिया. आज मां भगवती के समक्ष उनके आराधना में लीन रहते हुए आस्था को सामने रख, मां के भक्त- रक्तवीर योद्धाओं ने रक्तदान के जरिए अस्पताल में इलाजरत डेंगू से लड़ाई लड़ रहे अनमोल जिंदगी में फिर से नया ज्योत जला दिया. साथ ही साथ प्रतीक संघर्ष फाउंडेशन की और से 20 जरुरतमंदों को नया वस्त्र, योग सम्राट अंशु सरकार की और से 10 जरुरतमंदों को नया टी-शर्ट भी प्रदान किया गया. एवं सबसे महत्वपूर्ण प्रतीक संघर्ष फाउंडेशन की और से मेडिकल टीम एवं आयोजन में लगे सभी सदस्यों के लिए महा सप्तमी का महा प्रसाद का भी व्यवस्था किया गया. त्योहारों के बीच रक्तदान को मनोरंजक बनाने के लिए रक्तदाताओं के बीच रक्तदान के पश्चात सिर्फ और सिर्फ मनोरंजन के उद्देश्य से लाॅटरी के जरिए आकर्षक प्रतीक चिन्ह भी प्रदान किया गया. इस पावन बेला का गवाह बनने एवं रक्तवीर योद्धाओं का हौसला बढ़ाने के लिए आदित्यपुर नगर निगम के डिप्टी मेयर अमित सिंह उर्फ बॉबी सिंह, जमशेदपुर के नवनिर्वाचित अध्यक्ष जमशेदपुर केंद्रीय दुर्गा पूजा समिति के अचिंतम गुप्ता उर्फ अपुदा, जीएम जमशेदपुर ब्लड सेंटर संजय चौधरी, तेजतर्रार समाजसेवी डॉक्टर विजय मोहन सिंह, पूर्व जिला परिषद सदस्य बोड़ाम स्वपन कुमार महतो, एमटीएमएच के प्रशासक अमिताभ चटर्जी, पीएसएफ के निर्देशक अरिजीत सरकार, कमेटी के संरक्षक दिलीप कुमार कर ऊर्फ बच्चू दा, देवजीत सरकार, संजीत सरकार, सदस्यों के रूप में कुमारेस, विजोन, शुभेंदु, मुखर्जी, रंजित सिंह, चन्द्रनाथ, अनिल, किशोर, स्नेहा, मनोरंजन, उत्तम, अनिरुद्ध सरकार. उपस्थित रहे

Related Post