Sun. May 19th, 2024

चंदवा के अभिजीत ग्रुप में हो रहे लोहा चोरी को रोकने गए सिक्योरिटी गार्ड पर हमला चोरो का बढ़ा मनोबल चंदवा पुलिस मौन

अभिजीत ग्रुप से लगातार लोहे कि चोरी कि जा रही है परंतु चंदवा पुलिस मौन

 

 

चंदवा के अभिजीत ग्रुप में लगातार हो रहे लोहा चोरी को रोकने गए सिक्योरिटी गार्ड पर हमला

 

 

चंदवा ।चंदवा अभिजीत ग्रुप पावर प्लांट 2006 से निर्माण कार्य शुरू किया गया था। निरंतर कार्य होने से लगभग 2013-14 में पूर्ण होने की संभावना व्यक्त की जा रही थी। परंतु केंद्र में मनमोहन सिंह की सरकार को बदलने से अभिजीत ग्रुप और एस्सार ग्रुप को कोयले का आवंटन नरेंद्र मोदी की सरकार ने नहीं किया। उसके बाद से ही दोनों पावर प्लांट कोयले की आस में लग गए और प्लांट शुरू नहीं हो पाई। उसके बाद दोनों प्लांट को अन्य बैंकों के द्वारा खरीद बिक्री शुरू कर दिया गया। इधर प्लांट में बड़े पैमाने पर चोरों के द्वारा लोहे का चोरी की जा रही है। प्लांट का लोहा चोरी करने का उद्योग धंधा बन गया है। चंदवा पुलिस इसको रोकने में विफल है जबकि प्लांट परिसर में चंदवा पुलिस का पिकेट है। और बालूमाथ जाने के क्रम में मकईया ताड़ में भी बालूमाथ थाना का पिकेट है। कहां जाए तो प्लांट से निकलने वाला हर रास्ते में पुलिस पिकेट है। उसके बाद भी चोरों के द्वारा लोहे की बड़े पैमाने पर चोरी की जाती है। उसके साथ ही चंदवा और बालूमाथ के सभी कबाड़ी दुकानों में प्लांट से चोरी हुए लोहे को बेची जाती है। परंतु पुलिस के मिलीभगत से सभी कबाड़ी दुकान फल फूल रहे है जंगल के रास्ते लाया जाता है मोटरसाइकिल में चोरी के स्क्रैप  चंदवा पुलिस को यह सभी कार्य होने की जानकारी रहती है। उसके बावजूद भी कोई सख्त कार्रवाई लोहे चोरों पर और कबाड़ी दुकानदारों पर नहीं की जाती है कई चोरों के ऊपर मामला दर्ज है परंतु वह खुलेआम घूम रहे हैं। बालूमाथ में सबसे ज्यादा प्लांट की लोहे की चोरी हुए खरीदारी अबूसाले, पुटुन साव कबाड़ी दुकानदार के द्वारा ली जाती है वही अभी हर दिन रात्रि  मे प्लांट के अंदर हजारों की संख्या में चोरों के द्वारा चोरी की जाती है। दो दिन पूर्व एसआईएस सिक्योरिटी गार्ड को चोरों के द्वारा गुलेल से मारकर घायल कर दिया गया था। जिसका इलाज चंदवा के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में कराया गया घायल सिक्योरिटी गार्ड के द्वारा चंदवा के थाना में अज्ञात चोरों के द्वारा लिखित आवेदन दिया है जिसको चंदवा पुलिस के द्वारा 135/ 23 के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है पुलिस मामला तो दर्ज कर लेती है परंतु कार्रवाई बिल्कुल शून्य की है जिससे चोरों का मनोबल ऊंचा रहता है और लगातार प्लांट के परिसर में हर रोज हजारों टन लोहे की चोरी की जाती है लोहा चोरी के दौरान पुलिस गाड़ी को भी चोरों के द्वारा मारकर शीशा तोड़ दिया गया था। परंतु आज तक पुलिस के द्वारा किसी तरह का कोई कार्रवाई नहीं की गई और आज भी चोर खुलेआम चंदवा और बालूमाथ के कबाड़ी दुकानों में हजारों टन लोहा चोरी कर बेच रहे हैं जिससे पता चलता है। कि चंदवा और बालूमाथ के थाना के मिलीभगत से यह कार्य कराई जाती है।

Related Post