झारखंड में आज होगी एक शाम शहादत के नाम

0
617

आज एआईएसएम जर्नलिस्ट वैलफेयर ऐसोसिएशन द्वारा राज्य के विभिन्न जिलों में शहादत को श्रद्धांजली देने का कार्यक्रम आयोजित किया जा रहा है.इस क्रम में आज राज्य केराँची,जमशेदपुर,धनबाद,जामताडा़,दुमका,साहेबगंज,लातेहार,बोकारो,सरायकेला-खरसंवा सहित अन्य जिलों में मोमबत्ती और दीप जलाकर शहीदों को नमन किया जाएगा.

इस संबध में जानकारी देते हुए प्रदेश प्रभारी प्रीतम भाटिया ने बताया कि पर्व-त्योहारों में हमें उन्हें याद रखना चाहिए जिनकी शहादत से हम सुरक्षित हैं और उन्हें नमन करना चाहिए.

श्री भाटिया ने बताया कि ऐसोसिएशन द्वारा पहले भी ऐसा आयोजन जमशेदपुर में किया गया था,लेकिन आज इस कार्यक्रम को राज्य के अन्य जिलों में भी ऐसोसिएशन के पदाधिकारी और आम नागरिक मिलकर हमारे बैनर तले शहादत को सलामी देंगे.

प्रदेश अध्यक्ष रामप्रवेश सिहं ने कहा कि आज के दिन हमें अपने शहीद हुए स्वतंत्रता सेनानियों,पत्रकार साथियों,सेना,पुलिस के जवानों और स्वास्थ्यकर्मियों को भी याद करने की जरूरत है.श्री सिहं ने कहा कि हमें याद रखना है कि हम उनकी वजह से ही दीपोत्सव मना रहें हैं जो अपनी ड्यूटी पर 24 घंटे 365 दिन तत्पर रहते हैं.

प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष शंकर गुप्ता ने कहा कि आज हम जिनकी बदौलत पत्रकार बनें और पत्रकारिता के क्षेत्र में बतौर कलम के सिपाहियों ने जो बलिदान देश के लिए दिया है उन्हें नमन करने का अवसर है.उन्होंने कहा कि ऐसोसिएशन से जुडे़ सभी सदस्यों को आज एक शाम उन शहीदों के नाम करने का दिन है जिनकी निगेहबानी में यह देश सुरक्षित है.

प्रदेश महासचिव सुनील पांडेय ने कहा कि हमें अपने शहीदों और पूर्वजों के साथ साथ उन सभी को नमन करने की आवश्यकता है जिनके शुभ आशीष और कर्मठता के कारण हम सभी सपरिवार सुरक्षित रूप से उन्नति की ओर अग्रसर हैं.

प्रदेश उपाध्यक्ष मो.सईद ने कहा कि जिनकी शहादत से देश सुरक्षित है उन्हें हर पर्व त्योहार में याद करना चाहिए.देश के लिए अपने फर्ज को निभाते हुए कुर्बानी देना सबसे बडा़ त्याग है.