वंचित : शिक्षकेतर कर्मचारियों को नहीं मिल रहा सातवें वेतनमान का लाभ

0
452

:जमशेदपुर झारखंड विश्वविद्यालय एवं महाविद्यालय कर्मचारी महासंघ का प्रतिनिधि मंडल विधायक सरयू राय से मिला। इस दौरान कर्मचारियों ने उनसे आगामी विधानसभा सत्र में सातवें पुनरीक्षित वेतनमान एवं एसीपी एम एसीपी पर चर्चा करने की मांग की । प्रतिनिधिमंडल ने कहा कि एक ही विधि मैं सेवा दे रहे शिक्षकों को सातवें वेतनमान का लाभ नहीं मिल रहा है। लेकिन उन्हें नहीं यह 1 सप्ताह से आर्थिक विषमता है। क्योंकि सरकार के दूसरे कार्यालयों में कार्यरत कर्मचारियों को भी सातवें वेतनमान का लाभ मिल रहा है। सिर्फ विधि के कर्मचारी ही इससे वंचित हैं। जबकि 4 वर्ष पूर्व 2016 मैं ही यह लागू हो जाना चाहिए था। इस दौरान सरजू राय ने उनकी मांग को जायज बताते हुए सरकार के समक्ष रखने का आश्वासन दिया है। प्रतिनिधिमंडल में विशंभर यादव मनोज किशोर रमेश चंद्र ठाकुर आदि शामिल थे।

25 लाख की बीमा की उठी मांग

विश्वविद्यालय के शिक्षकेतर कर्मचारी ने कोल्हान विश्वविद्यालय के कुलपति को पत्र लिखकर कोरोना काल में सेवा लेने से पहले सभी कर्मचारियों को 25 लाख का जीवन बीमा कराने की मांग की है। उन्होंने कहा कि इस कोरोना काल में भी कर्मचारियों को कार्यालय बुलाया जा रहा है। जिसकी वजह से उन्हें अत्यधिक रिस्क है। इसके साथ ही कर्मचारियों ने कहा कि जिन में कोरोना का लक्षण दिखाई देता है उन्हें विश्वविद्यालय को विशेष अवकाश की सुविधा देनी चाहिए। साथ ही सभी कर्मचारियों को ग्लब्स, मास्क एवं सैनिटाइजर भी दिया जाए। वही हर कार्य दिवस में दो बार कार्यालय को सैनिटाइज कराया जाए।

घाटशिला कमलेश सिंह