Mon. Jun 17th, 2024

सुरभि शाखा द्वारा आयोजित पांच दिवसीय कार्यक्रम के चौथे दिन शाखा द्वारा *गुड टच बैड टच* एवं *सोशल अवेयरनेस* पर कार्यशाला आयोजित किया गया

By Juhi Pradhan Apr 25, 2024

इस कार्यशाला में बच्चों को गुड टच एवं बैड टच से अवगत कराया गया।

गुड टच (अच्छा स्पर्श )अगर कोई आपके सिर पर हाथ फेर रहा है बाल खिलाना है या गाल खींच रहा है तो इस गुड टच कहते हैं । बुरा स्पर्श( बेड टच ) जब कोई वही सर के नीचे के हिस्से को छुए या ऐसे हिसों को छुए जिसे आपको कंफर्टेबल ना लगे तो इसे बेड टच कहते हैं। कार्यशाला में यह भी बताया गया कि बच्चों और माता-पिता के बीच में भरोसे की नींव मजबूत होनी चाहिए ताकि बच्चे बिना डरे अपने माता-पिता को सब कुछ बता सके।

 

शाखा अध्यक्ष कविता अग्रवाल ने बताया कि कार्यशाला में बच्चों को यह बताया कि *बच्चे मन से बेहद सरल होते हैं उन्हें अगर कोई प्यार से कुछ खाने या खेलने को दे तो वह उनके साथ खेलने या खाने लग जाते हैं ऐसे में उनका फायदा उठाया जाता है* जो गलत है इसलिए *बच्चों को अनजान व्यक्ति से ना कुछ लेना को मना किया साथ ही अपने माता-पिता से हर वह चीज शेयर करें जो उनके साथ घटता है।*

*इस कार्यशाला में शाखा की उपाध्यक्ष कि सुपुत्री पायल अग्रवाल द्वारा बच्चों को गुड टच एवं बैड टच का प्रदर्शन (डिमॉन्सट्रेशन)करके भी समझाया गया।*

 

शाखा सचिव पूजा अग्रवाल ने बताया कि कार्यशाला में *सोशल अवेयरनेस पर भी बच्चों का अवगत कराया गया कि मोबाइल फोन में जितनी सुविधा है उतना असुविधा भी होती है जिससे बच्चों को नुकसान पहुंचाया जा रहा है* जिससे उनका पढ़ाई का स्तर गिर रहा है साथ ही स्मार्टफोन से निकलने वाली किरणों बच्चों की आंखों को क्षति पहुंचती है इसलिए बच्चों को इसका प्रयोग नहीं करना चाहिए।

 

यह कार्यक्रम अध्यक्ष कविता अग्रवाल सचिव पूजा अग्रवाल, कोषाध्यक्ष पायल अग्रवाल के नेतृत्व में आयोजित किया गया। इस कार्यक्रम को सफल बनाने में पूर्व अध्यक्ष उषा चौधरी एवं उपाध्यक्ष पिंकी अग्रवाल जी का योगदान रहा।

By Juhi Pradhan

कर्मभूमि जमशेदपुर

Related Post