Thu. Jun 20th, 2024

पोटका प्रखंड के 30 पंचायतों के 222 गांव में हर घर नल योजना के तहत शुद्ध पेयजल पहुंचेगा

पोटका प्रखंड के 30 पंचायतों के 222 गांवों में हर घर नल योजना के तहत शुद्ध पेयजल पहुंचेगा। इसके लिए कुलडीहा पंचायत के इसी गांव में स्वर्णरेखा नदी का पानी जलस्त्रोत के रुप में लिया जाएगा। पेयजल स्वच्छता विभाग आदित्यपुर प्रमंडल द्वारा 265 करोड़ की वृहद जलापूर्ति योजना का टेंडर प्रक्रिया शुरू करने की घोषणा किया है। यह बातें झामुमो के प्रखंड अध्यक्ष सुधीर सोरेन ने रविवार को हाता झामुमो  कार्यालय में प्रेसवार्ता का माध्यम से कहा    कि विधायक संजीव सरदार के सतत प्रयास से प्रखंड के 34 में 30 पंचायतों तेंतला, चांदपुर, माटकू, शंकरदा, हाड़तोपा, हाथीबिंदा, डोमजुड़ी, आसनबनी, कुलडीहा, भाटीन,धिरौल, सोहदा,कालिकापुर, मानपुर,हेंसलबील, पोटका, सानग्राम, पोड़ाडीहा,जुड़ी, हल्दीपोखर पूर्वी,हल्दीपोखर पश्चिम, गंगाडीह, रसूनचोपा, हेंसड़ा, चाकड़ी, टांगराईन, कोवाली, जानमडीह,जामदा और हेंसलआमदा पंचायतों के 220 गांवों में पाईप लाईन से शुद्ध जल पहुंचाया जाएगा। पानी को जलमीनार बनाकर स्टोरेज कर हर घर नल का जल का आपूर्ति किया जाएगा। उन्होंने कहा कि पहाड़ी क्षेत्र होने के कारण प्रखंड के चार पंचायतों हरिणा, नारदा, तेंतला पोड़ा व ग्वालकाटा के शेष 62 गांवों में लघु जलापूर्ति योजना से काम शुरू कर पेयजल पहुंचाने की योजना प्रारंभ हो चुका है। प्रखंड अध्यक्ष ने हल्दीपोखर पूर्वी व पश्चिम पंचायत के ग्रामीणों के लिए शुद्ध पेयजल मिलना एक सपना पुरा होने जैसा साबित होगा। यहां के ग्रामीण आजादी के बाद से शुद्ध पेयजल के लिए परेशान थे। विधायक संजीव सरदार चुनाव से पूर्व इस दो पंचायत के ग्रामीणों से वायदा किया था कि घर घर शुद्ध पेयजल दिलाया जाएगा। विधायक ने इसके लिए गंभीर पहल किया है। उन्होंने पेयजल स्वच्छछता विभाग से लगातार संपर्क कर मंत्री से लेकर सचिव व अभियंता को  पोटका में यह बड़ा योजना देने पर दबाव बनाया। विधायक का प्रयास रंग लाया है। 265 करोड़ की वृहद जलापूर्ति योजना अब कुछ दिनों में ही मूर्त रुप लेगा। ग्रामीणों को पेयजल संकट से छुटकारा मिलेगा। प्रेसवार्ता में शत्रुघ्न सरदार, बबलू चौधरी, अ.रहमान, रजनी षांडगी, भूवनेश्वर सरदार, कार्तिक दास,रोहितोष पाल,बुलू महतो सहित अन्य उपस्थित थे।

विधायक संजीव सरदार ने कहा कि पोटका में वृहद जलापूर्ति योजिना 284 गांव के ग्रामीणों के लिए मील का पत्थर साबित होगा।एक वर्ष पूर्व ही हल्दीपोखर से इस महती योजना का सर्वे का काम शुरू कराया था। ग्रामीणों को शुद्ध पेयजल मिले, इसके लिए लगातार प्रयास कर योजना को स्वीकृति दिलाते हुए टेंडर प्रक्रिया आ पहुंचा है। योजना जल्द पुरा होकर पोटका के सभी घरों में शुद्ध पेयजल पहुंचेगा।

Related Post