Thu. Jun 20th, 2024

दो वर्ष से खराब पड़े जलमीनार,खुद से बनाये ग्रामीण,मिस्त्री रह चुके थे असफल

*दो वर्ष से खराब पड़े जलमीनार,खुद से बनाये ग्रामीण,मिस्त्री रह चुके थे असफल*

गारू संवाददाता रामदयाल यादव की रिपोर्ट

गारू

 

गारू प्रखंड के अंतर्गत मायापुर पंचायत के टोला हेठडीह में दो वर्षो से खराब पड़े जलमीनार को ग्रामीण खुद से बना लिए,जहा पर एक सप्ताह पहले मिस्त्री जलमीनार को बनाने के ख्याल से यह आये थे, उनके द्वारा यह कहकर छोड़ दिया गया कि बिरिंग गिर गया है,मोटर यहाँ से नही निकल पायेगा,ये जलमीनार अब कभी नही बन पाएगा।यह सुनकर ग्रामीण निराश हो गये, इस टोला में एक मात्र पानी का साधन जलमीनार ही था,उसके बाद गांव आनंद तेलरा,सोहन ब्रिजिया,रंजीत ब्रिजिया,ज्ञान ब्रिजिया ने अपनी बुद्धि विवेक और अपने परिश्रम से इस जलमीनार को बनाने में सफल रहे।कहा जहा की परिश्रम करने वालो की कभी हार नही होती है,गांव के लोगो को किसी से कम नही समझना चाहिए, इनकी प्रतिभा निखारने की मौका नही मिल पाती है,जिसके कारण पीछे रह जाते है।इस टोला में 99% अदिमजनजाति के लोग निवास करते है चूकि यहा पर एक मात्र पानी का साधन जलमीनार ही है,इस जलमीनार से मंगरा गांव के लोग भी पानी का उपयोग करते है,इस जलमीनार से 150 लोग लाभान्वित होते हैं

विद्यालय के बच्चों को पानी की बहुत किल्लत थी जो जलमीनार की दुरुस्त हो जाने से स्कूली बच्चों को स्वच्छ पानी मिल रहा है और रसोइया को भी नदी से पानी लेकर मध्यान्ह भोजन बनाने पड़ता था,जलमीनार बन जाने से पानी की समस्या खत्म हुआ।

Related Post