Sat. May 25th, 2024

अयोध्या रजक की 2 साल की पुत्र को आंगनबाड़ी केंद्रों मैं टीकाकरण के पश्चात पांव फूलने का मामला सामने आने से. अयोध्या रजक द्वारा मामले की जानकारी विधायक संजीव सरदार को दी गई

पोटका प्रखंड के उपरदेवील गांव निवासी अयोध्या रजक के दो साल के पुत्र को आंगनबाड़ी केंद्र मे टीकाकरण के पश्चात पाव फुलने के मामला सामने आया है, जिससे के बाद पीडित बच्चे के पैर का ऑपरेशन मर्सी ऑस्पताल जमशेदपुर मे किया गया. इस संबंध मे अयोध्या रजक ने मामले की जानकारी विधायक संजीव सरदार को देते हुए बताया कि वह छोटागोविंदपुर के सुंदरहातु मे रहते है, जहां 1 अक्तूबर को उनके दो साल के पुत्र को स्थानीय आंगनबाड़ी केंद्र मे तीन टीका दिया गया. यहां दिन के टीका दिये जाने के बाद शाम से बच्चे का पांव फुलने लगा, जिससे बच्चा लगातार दर्द से रोता रहा. वह एक दिन बाद मामले की जानकारी आंगनबाड़ी केंद्र को दिया, तो पारासिटामोल खिलाने के कहा गया. बच्चे को पारासिटामोल खिलाया गया, लेकिन कोई असर नहीं हुआ. इसके दो दिन बाद वह बच्चे को मर्सी ऑस्पताल लेते गया, जहां चिकित्सकों ने स्थिति गंभीर बतायी. पैसे के अभाव मे वह बच्चे को बगैर चिकित्सा कराये घर लौट गये, जिसके पश्चात बच्चे को सदर ऑस्पताल खासमहल ले गये, जहां बच्चे को बगैर जांच किये बच्चे को एमजीएम जमशेदपुर के लिये रैफर कर दिया. बच्चे की स्थिति लगातार खराब हो गयी. इसके बाद मंगलवार को बच्चे को मर्सी ऑस्पताल मे भर्ती किया गया, जहां बुधवार को बच्चे के पैर का ऑपरेशन किया गया. बच्चे के पिता अयोध्या रजक ने कहा कि बच्चे को गलत इंजेक्सन देने के कारण ऐसी स्थिति हुआ है. उन्होंने विधायक श्री सरदार ने गलत इंजेक्सन देनेवाले पर कार्रवाई एवं मुआवजे की मांग किया है.

Related Post