Sun. May 26th, 2024

सरना प्रार्थना वंदना में बहुत ताकत है.रमेश उरांव

सरना प्रार्थना वंदना में बहुत ताकत है.रमेश उरांव

लातेहार अजय सिन्हा की रिपोर्ट

लातेहार.उदयपुरा ग्राम में सरना आदिवासी समुदाय के लोगों के द्वारा धर्मस्थल धर्म अड्डा मैं शरद अश्विनी पूर्णिमा पर प्राकृतिक पूजा किया.

जहां पर धूप हवन जला कर के.हलवा महनभोग का प्रसाद के रूप में चढ़ाया गया.सभी लोग स्नान उपवास मे रहकर के पहुंचे.अपने पूर्वज के चल रही परंपरा को निभाए . श्रद्धालु का कहना है कि हर पूर्णिमा अमावस्या हर बृहस्पतिवार को हम लोग सुबह में एक साथ जुटते हैं .आदिशक्ति को प्रार्थना करते हैं शाम में दीप जलाकर वंदना करते हैं .संध्या वंदना करते हैं .शरना आदिवासी परंपरा से लोग शुद्धता.पवित्रता .स्वच्छता भाईचारा रहने की प्रेरणा मिलती है .इस स्थल पर इन लोग प्राकृतिक पूजा करते हैं . बली और शराब से दुर रहते है .

झारखंड के धरतीपुत्र के द्वारा किया जाता है .जिसमें लोग भारी संख्या में लोग भाग लेते हैं .आज पहुंचे जालिम के मुखिया सुनीता भगत .रमेश उरांव बिंदेश्वर उरांव.बृंदा उरांव.जयनंदन उरांव.ललिता देवी .लक्ष्मण उरांव.संगीता देवी सहित कई लोग शामिल थे.

Related Post