Sun. May 26th, 2024

दुर्गा पूजा के दौरान जहां भक्तजन मां की आराधना में लीन रहा वही पीएस एप के रक्तदाता निभाया मानव धर्म

 

*दुर्गा पूजा के पंचमी से लेकर द्वादशी तक जहां पूरा शहर श्री श्री मां भगवती के पूजा अर्चना में लीन रहा एवं परिवार संग खुशियां मनाने में व्यस्त रहे, वहीं प्रतीक संघर्ष फाउंडेशन एवं जमशेदपुर ब्लड बैंक के एक आह्वान पर, मानव प्रेम के तहत मानवता का परिचय देते हुए, अस्पताल में इलाजरत उन जरूरतमंद लोगों के लिए एक जीवनदाई बनकर रक्तदान के जरिए कईयों के अंधेरा रुपी जीवन में दीया जलाने का कार्य कर गए पीएसएफ के कर्मठ योद्धा. इस कड़ी में जहां नीरज कुमार झा अपना तीसरा एसडीपी के तहत 30 बा रक्तदान, राकेश कुमार जी ने अपना 30 बा एसडीपी के तहत 50 बा रक्तदान, शशिकांत सिंह ने 10 बा एसडीपी के साथ 19 बा रक्तदान, शशि भूषण मिश्रा जी ने पहला एसडीपी रक्तदान के साथ अपना 20 बा रक्तदान, शुभेंदु मुखर्जी जी ने 7 बा एसडीपी रक्तदान के साथ अपना 39 बा रक्तदान, उत्तम कुमार गोराई जी ने 25 बा एसडीपी रक्तदान के साथ अपना 45 बा रक्तदान, मनिंदर सिंह जी ने अपना तीसरा एसडीपी रक्तदान के साथ अपना 30 बा रक्तदान एवं कुमारेस हाजरा जी ने अपना 33 बा एसडीपी रक्तदान के साथ अपना 73 बा रक्तदान को पूर्ण किया. और इसी के साथ ” प्रतीक संघर्ष फाउंडेशन ” ने सिंगल डोनर प्लेटलेट्स यानी एसडीपी रक्तदान के क्षेत्र में अपना ” 320 बा एसडीपी रक्तदान ” के आंकड़े को भी पूर्ण कर लिया. सही में इन सभी रक्त दाताओं ने श्री श्री मां भगवती की आराधना करते हुए जिस तरह से इंसानियत धर्म का पालन करते हुए, अपना कर्तव्य का निर्वाहन किया है, इन सभी योद्धा सह रक्त दाताओं को उनके द्वारा किया गया अतुलनीय योगदान, उनके आदर्श, उनके सोच, उनके विचारधाराओं को सलाम करता है जमशेदपुर ब्लड बैंक एवं प्रतीक संघर्ष फाउंडेशन. सभी रक्त दाताओं को रक्तदान के पश्चात जमशेदपुर ब्लड बैंक की ओर से प्रशस्ति पत्र एवं प्रतीक संघर्ष फाउंडेशन की ओर से प्रतीक चिन्ह देखकर जहां सम्मानित किया गया. वहीं कई रक्त दाताओं को नवरात्रि के पावन शुभ अवसर पर महाप्रसाद भी प्रदान किया गया. इस पूरे अभियान के दौरान जमशेदपुर ब्लड बैंक के जीएम संजय चौधरी, अनुभवी एवं वरीय चिकित्सक डॉक्टर लव बहादुर सिंह, डॉ रीता सिंह, डॉक्टर निर्जला, अनुभवी तकनीशियन अनूप कुमार श्रीवास्तव, मनोज कुमार महतो, धीरज कुमार, सुभोजित मजूमदार एवं प्रतीक संघर्ष फाउंडेशन से निर्देशक अरिजीत सरकर, अमिताभ चटर्जी, कुमारेस हाजरा, किशोर साहू, विजोन सरकार एवं रविशंकर. उपस्थित रहे

Related Post