Thu. Jun 20th, 2024

स्वर्गीय गायत्री देवी के प्रथम पुण्यतिथि पर जायसवाल परिवार ने मानव सेवा के जरिए अर्पण किया श्रद्धांजलि

 

*आज , कदमा निवासी ” श्याम नारायण जायसवाल ” जी ने विगत एक वर्ष पूर्व परिवार के सबसे मजबूत स्तंभ और अपने धर्मपत्नी ” स्वर्गीय गायत्री देवी ”  को खो चुके. श्याम नारायण जी ने अपने दोनों सुपुत्र अजय जायसवाल एवं राकेश जायसवाल को, और पोता सौयरिया एवं पोती श्रीया जायसवाल को संग लेकर, ” स्वर्गीय गायत्री देवी ” जी के ” प्रथम पुण्यतिथि ” पर किसी भी तरह का तामझाम से दूर, सिर्फ और सिर्फ विधि विधान से पूजा अर्चना एवं मानव प्रेम के तहत मानवता का परिचय देते हुए, जमशेदपुर के जुगसलाई थाना क्षेत्र स्थित ” नव जागृत मानव समाज कुष्ठ आश्रम ” परिसर में, वहां रह रहे 50 पीड़ित एवं असहाय लोगों के लिए उत्तम से उत्तम नाश्ते एवं फलों आदि की व्यवस्था कर जहां अपनी सेवाएं प्रदान की, वहीं कहीं ना कहीं ” स्वर्गीय गायत्री देवी ” जी के सोच, उनके विचारधाराओं, उनके आदर्शों को सामने रख, परिवार के सभी सदस्यों ने मिलकर धरातल में रह रहे इन जरूरतमंद लोगों के लिए उनके ” प्रथम पुण्यतिथि ” को समर्पित कर प्रदान कर रहे हैं अपनी सेवाएं. ऐसे तो ” जायसवाल परिवार ” के सभी सदस्य निरंतर हर दिशाओं में धरातल में रह रहे जरूरतमंद लोगों के लिए अपनी सेवाएं प्रदान करते रहते हैं. आज जहां इस परिवार के सभी सदस्यों के सोच, उनके विचारधाराओं, उनके जज्बे को सलाम करने का दिन है. वहीं नम आंखों से ” स्वर्गीय गायत्री देवी ” जी को शत शत नमन करते हुए भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पण करता है ” प्रतीक संघर्ष फाउंडेशन “.इस दौरान परिवार के सदस्य के रूप में , गुलाब चन्द्र जायसवाल, श्याम विहारी जायसवाल, राजु जायसवाल, कमल जायसवाल, बाबुलु जायसवाल एवं बिट्टु जायसवाल. प्रतीक संघर्ष फाउंडेशन से निर्देशक अरिजीत सरकार, कुमारेस हाजरा, किशोर साहु, एवं विजोन सरकार उपस्थित रहे

Related Post