Sat. May 25th, 2024

सिंहभूम चैम्बर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री की 71वीं आमसभा का चैम्बर भवन में आयोजन, चारों उपसमिति के प्रस्ताव हुये पारित, इस सत्र मे 100 कार्यक्रमों का आयोजन, सभी सदस्यों ने सराह|

By Rajdhani News Sep 27, 2022

सिंहभूम चैम्बर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री की 71वीं आमसभा आज चैम्बर भवन में 11.30 बजे से आयोजित किया गया। इस आमसभा में पिछले पिछले सालभर चैम्बर के द्वारा किये गये गतिविधियों का ब्यौरा सदस्यों के समक्ष प्रस्तुत किया गया। आमसभा की शुरूआत अध्यक्षीय उद्बोधन के साथ शुरू करते हुये अध्यक्ष विजय आनंद मूनका ने उपस्थित सभी उपस्थित पूर्व अध्यक्षों मुरलीधर केडिया, जी.आर. गोलछा, सुरेश सोंथालिया, अशोक भालोटिया का स्वागत किया। उन्होंने कहा कि वर्ष 2021-23 कार्यकाल के चुनी गई उनकी कार्यसमिति ने उपलब्धि हासिल करते हुये 100 कार्यक्रमों का आयोजन पूरा किया है यह उपलब्धि पदाधिकारियों, कार्यसमिति सदस्यों और चैम्बर के सभी सदस्यों के भागीदार और सहयोग से पूरा हुआ है इसके लिये वे सभी बधाई के पात्र हैं। उन्होंनें अपने अध्यक्षीय उद्बोधन में कहा कि अपने अध्यक्षीय कार्यकाल के पहले वर्ष में उद्योग, व्यापार में आई कई समस्याओं को निराकरण सदस्यों के मदद से पूरा किया। इसमें कृषि बाजार उत्पादन समिति पर 2 प्रतिषत बाजार शुल्क, सैरात बाजार, साकची बाजार बैरिकेटिंग का मु्द्दा, व्यापारियों एवं उद्यमियों से लूट की वारदात जैसे मुद्दे पर चैम्बर ने मुखर होकर अपना विरोध जताया। जनकल्याण और सामाजिक सरोकार के तहत पूर्व उपाध्यक्ष स्व0 दिनेश चौधरी की स्मृति में रक्तदान शिविर, आधार कार्ड कैम्प, कोविड बूस्टर डोज वैक्सीनेशन कैम्प, पासपोर्ट सेवा केन्द्र की क्षमता को बढ़वाना इत्यादि कार्याें को किया। वोकल फॉर लोकल की तर्ज पर स्थानीय उद्यमियों को बढ़ावा देने हेतु कॉर्पोरेट कंपनियों उच्च पदाधिकारियों को चैम्बर आमंत्रित कर संवाद करना, विभागों के साथ त्रैमासिक बैठकें आयोजित किया गया। इन सबमें स्थानीय मंत्री, विधायकों, सरकार के वरिष्ठ मंत्रियों, प्रशासन और मीडिया के सहयोग के लिये उन्हें धन्यवाद भी अध्यक्ष ने प्रेषित किया।

 

आमसभा का संचालन करते हुये मानद महासचिव मानव केडिया ने पिछले एक वर्ष के दौरान किये गये कार्यो का विस्तृत विवरण प्रस्तुत किया। उन्होंने कहा कि पिछले एक वर्ष मे 100 से अधिक कार्यक्रम एवं बैठकों का आयोजन कार्यसमिति सदस्यों की सक्रिय भागीदारी से संभव हो पाया।

 

चारों उपसमिति के उपाध्यक्षों नितेश धूत, दिलीप गोलछा, महेश सोंथालिया, मुकेश मित्तल एवं सचिव अनिल मोदी, भरत मकानी, पीयूष चौधरी के द्वारा पिछले एक वर्ष के दौरान अपने-अपने उपसमितियों से संबंधित कार्यों एवं प्रस्तावों को भी आमसभा में रखा गया जो प्रमुख रूप से हैं:

*उद्योग उपसमिति का प्रस्ताव*- स्थानीय उद्योगों को डीवीसी बिजली की उपलब्धता एवं राज्य के दूसरे जिलों के अनुसार सामान बिजली दर, स्थानीय उद्योगों को बढ़ावा, जियाडा लैंड एलाउटमेंट पॉलिसी को उद्योग फ्रेंडली बनाने हेतु सतत् प्रयास, उद्योगों को दूसरे जगहों पर जगह उपलबध कराना, कोल्हान में उद्योगों के विकास हेतु लैंड बैंक एवं फूड प्रोसेसिंग पार्क की स्थापना, इंजीनियरिंग संयंत्रों की कोल्हान में स्थापना

*व्यापार एवं वाणिज्य उपसमिति का प्रस्ताव*- जमशेदपुर में ट्रेड कमिष्नर की स्थापना, सैरात की भूमि पर बने बाजारों को आधुनिक बाजार के रूप में विकसित किया जाय एवं दुकानदारों को मालिकाना हक दिया जाय। व्यवसायियों को आयुष्मान भारत योजना का लाभ, व्यापारियों के लिए व्यापारी कल्याण बोर्ड की स्थापना, बाजार समिति में व्याप्त समस्याओं का निराकरण, दुकानदारों को मालिकाना हक दिया जाय, देष में जो भी व्यापारी/उद्योगपति जीएसटी में पंजीकृत हैं, केन्द्र/राज्य सरकार को उनके लिये बीमा की व्यवस्था, केन्द्र एवं राज्य में ऑनलाईन व्यवसाय से जुड़े कंपनियों के लिये कड़े नियम-कानून बनाते हुये इनको टैक्स के दायरे में लाया जाय, अन्य राज्यों की तर्ज पर थोक वस्त्र विक्रेताओं के लिये एक वृहद सामूहिक बाजार की व्यवस्था हेतु राज्य सरकार, सरकारी दर पर जमीन का आवंटन, विकसित राज्यों की तर्ज पर जमषेदपुर में भी ट्रेडिंग कलस्टर की स्थापना इत्यादि

*जनसंपर्क एवं कल्याण उपमिति का प्रस्ताव* – जमशेदपुर या इसके आसपास एयरपोर्ट का निर्माण, बाजारों में महिलाओं के लिये पिंक टायलेट का निर्माण, जुगसलाई ओवरब्रिज का निर्माण 31.12.2022 तक पूर्ण किया जाये, होल्डिंग टैक्स, कीनन स्टेडियम का कायाकल्प, सैरात बाजार की दुकानों का किराया निर्धारण, जमषेदपुर में मल्टी स्पेषलिटी अस्पताल, उच्च शिक्षा/अंतर्राष्ट्रीय मानक विश्वविद्यालय, पर्यटन का विकास इत्यादि

*टैक्स एवं फायनांस* – उपसमिति के द्वारा डायरेक्ट एवं इनडायरेक्ट टैक्स से संबंधित प्रस्ताव लाये गये।

 

*कोषाध्यक्ष किषोर गोलछा के द्वारा वित्तीय वर्ष 2021-22 के आय-व्यय का ब्यौरा आमसभा में प्रस्तुत किया गया जिसे सर्वसम्मति से पास किया गया।*

*पूरे आमसभा के लिये ई.वोटिंग की व्यवस्था की गई थी जिसे स्क्रूटनाईजर के रूप में सीए जगदीष खंडेलवाल ने संभाली।*

पूर्व अध्यक्ष श्री मुरलीधर केडिया, श्री जी.आर. गोलछा, श्री सुरेश सोंथालिया, श्री अशोक भालोटिया ने भी आम सभा को संबोधित किया।

आज की आमसभा में अध्यक्ष विजय आनंद मूनका, मानद महासचिव मानव केडिया, उपाध्यक्ष नितेश धूत, दिलीप गोलछा, महेश सोंथालिया, मुकेश मित्तल एवं सचिव अनिल मोदी, भरत मकानी, पीयूष चौधरी, कोषाध्यक्ष किशोर गोलछा, बी.एन. शर्मा, सत्यनारायण अग्रवाल मुन्ना, बजरंगलाल अग्रवाल, विष्णु गोयल, अभिषेक अग्रवाल, मोहित मूनका, सन्नी संघी, अषोक मोदी, शिवप्रकाश शर्मा, रामू देबुका, श्रवण देबुका, सुधीर सिंह, भरत वसानी, रमेश सोंथालिया, आकाश मोदी, चन्द्रकांत जटाकिया, मनोज गोयल, मनोज कुमार अग्रवाल, नवीन कुमार, इन्द्रजीत सिंह बिन्द्रा, आनंद चौधरी, संजय देबुका, पवन नरेडी, मोहित साह, अमीष अग्रवाल, अभिषेक नरेडी, चन्दन कांवटिया, पुनीत कांवटिया, अमित अग्रवाल, जसविंदर सिंह, लखन मूनका, बलराम प्रसाद, प्रषांत अग्रवाल, अशोक मोदी, मनोज चेतानी, हर्ष अग्रवाल, दिलीप गोयल, शुभम सेन, ओमप्रकाश इनानी,चेतन राठौढ़ सहित सैकड़ों सदस्यों उपस्थित थे।

Related Post