Fri. Jun 14th, 2024

पोटका की जीप सदस्य श्रीमती प्रतिमा रानी मंडल का प्रयास लाइ रंग

Abhijit sen–potka
पोटका प्रखंड के लोवाडीह गांव निवासी विश्वनाथ मुर्मू – उर्फ़ – मंगल मुर्म किडनी के मरीज जब हफ्ते में दो दिन डायलेसिस शुरू हुआ तो मानो उनके पांव तले की जमीन ही घिसक गया। हफ्ते की ट्रीटमेंट खर्च उठाने में अक्षम श्री मुर्मू द्वारा आनन फानन में सरकारी सुबिधा लेने की प्रयाश कि गई लेकिन -इनके आधार कार्ड एवं आयुष्मान कार्ड में अलग अलग नाम रहने के कारण इन्हें ” प्रधानमंत्री आयुष्मान योजना ” का लाभ नहीं मिल पाया। जरूरत के समय जब तकनीकि कारणों से ना तो सरकारी लाभ मिला तो थक हार कर श्री मुर्मू पंहुचा अपने जिप सदस्या श्रीमती प्रतिमा रानी मंडल के पास – विस्तृत सुनाये अपनी दुःखड़ा। जिप सदस्या प्रतिमा रानी मंडल बात को ध्यान में रखा तत्पश्चात जिप सदस्य श्रीमती प्रतिमा रानी मंडल के निर्देश पर पूर्व जिलापार्षद करुणा मय मंडल के अथक प्रयाश से तथा उपायुक्त पूर्वी सिंहभूम सह जिला प्रशासन के सहयोग से अंततः पीड़ित श्री मुर्मू का नया आयुष्मान कार्ड बना। इसके लिये पूर्व पार्षद श्री मंडल द्वारा जिले के उपायुक्त, उप विकास आयुक्त, जिला खाद्य आपूर्ति पदाधिकारी, सिविल सर्जन सभी पदाधिकारियों का दरवाजा खटखटा गया – सब सहयोग मार्गदर्शन भी मिला, अंततः उपयुक्त पूर्वी सिंहभूम सूरज कुमार के निर्देश पर आयुष्मान विभाग की मार्गदर्शन पर सफलता प्राप्त हुआ। विशेष कर जिला खाद्य आपूर्ति विभाग के कार्यालय का भी सरहनीय योगदान रहा है – आधार आधारित विश्वनाथ मुर्मू के नाम से नया राशन कार्ड बनवाने के बाद ही तकनिकी सारी अड़चने खत्म हुई तथा पोटका के प्रज्ञा केंद्र से मरीज श्री मुर्मू को नया आयुष्मान कार्ड बनवा दिया गया – जो आज जिप सदस्या श्रीमती प्रतिमा रानी मंडल द्वारा अपनी आवासीय कार्यालय में उपस्थित पीड़ित विश्वनाथ मुर्मू के हाथों में दिये। संकट की इस लंबी सफर में पीड़ित मुर्मू के साथ यू.सी.आई.एल.नरवा माइंस के एक सहृदय पदाधिकारी बैजनाथ सोरेन एवं,मुनीराम मुर्मू का भी काफी योगदान रहा है। आज पीड़ित विश्वनाथ मुर्मू के साथ, बैजनाथ सोरेन, सोमेन भकत, कन्हाई मुर्मू, एवं पूर्व जिला पार्षद करुणा मय मंडल उपस्थित थे।पीड़ित श्री मुर्मू ने संकट की घड़ी में साथ देने के लिये अपने जिला पार्षद को धन्यवाद दिये।

Related Post