Fri. Jun 14th, 2024

10 सालों की पंचायती राज में नहीं हुआ पुलिया निर्माण आवागमन के लिए बिजली के खंभे देखकर नाले पार करते हैं ग्रामीण।

10 सालों की पंचायती राज में नहीं हुआ पुलिया निर्माण आवागमन के लिए बिजली के खंभे देखकर नाले पार करते हैं ग्रामीण।

 

 

सरकारी पैसों का खुब होता है दुरुपयोग

 

अनलीगल जगह पर की जा रही है सरकारी पैसों की खर्च

 

 

 

गिद्धौर:(चतरा) प्रखंड के बारियातू पंचायत में दस वर्षो बाद पंचायती राज पूर्ण होने के बाद भी अब तक नहीं बना पुलीया पंचायत चुनाव हुआ था तो लोगो को एक बार गांवो एंव हर तबके के लोगो तक विकास पहुँचने की उम्मीद जगी थी।लेकिन मुखिया समेत अन्य प्रतिनिधियों की लापरवाही व अधिकारियों के मनमानी के कारण पंचायत चुनाव के दस वर्षों के बाद भी गांवों में विकास देखने को नही मिल रहा है।यू कहे कि विकास भी लोगो के मुंह देखकर जाते है ऐसा ही एक मामला गिद्धौर प्रखंड के बरियातू पंचायत के इचाक हरिजन टोला का आया है।यहाँ के लोगों को मुख्य पथ से टोले तक पहुंचने में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है।पथ से टोला तक पहुंचने में उन्हें नाला पार कर आना पड़ता है। नाले में पुलिया नही होने से लोगो को काफी मुश्किल होता है।खास कर बरसात के दिनों में छोटे बच्चों तथा बुजुर्गों को नाला पार करना काफी दिक्कत होता है।ऐसे में टोले के लोग टूटे बिजली पोल को नाले में बिछा कर आने जाने व्यवस्था की है।ऐसी जगह में पुलिया नहीं बना कर मुखिया और पंचायत सेवक अपने निजी लोगों को काम दे कर सरकारी पैसे की दुरुपयोग कर रहे हैं जो जांच का विषय है कई जगह पर देखा गया है कि जहां कोई जरूरत नहीं उस जगह पर झूठ मूठ का नाली पुलिया देकर सरकारी पैसे का दुरुपयोग किया जा रहा है जबकि इचाक गांव के पूर्णा डी हरिजन टोला का यह स्थिति है टूटे हुए बिजली की पोल रख कर सड़क पार कर रहे हैं जिससे कभी भी भारी दुर्घटना हो सकती है ग्रामीणों को पंचायत की मुखिया किरण देवी से काफी उम्मीद थी कि हमलोगों की समस्या को देखते हुए नाले पर पुलिया निर्माण करवाएंगे। परंतु मुखिया अपने दस वर्ष के कार्यकाल में भी हमलोगों की परेशानी को नही समझी। और आज तक पुलिया निर्माण का कार्य नहीं किया गया। इस संबंध में मुखिया से पूछे जाने पर बताया के पुलिया निर्माण को लेकर पावर प्लांन में चढ़ाया गया है जल्द ही पुलिया निर्माण का कार्य किया जाएगा।

Related Post