Mon. Jun 24th, 2024

क्या नया उम्मीदवार बुझा पाएगा तेल की कीमत में लगी आग?

हरदीप सिंह पुरी के पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्रालय का प्रभार संभालने के बाद फिर पेट्रोल-डीजल के दाम में बढ़ोतरी दर्ज की गई है. गुरुवार को पेट्रोल का भाव 35 पैसे महंगा हो चुका है. साथ ही डीजल का रेट भी 9 पैसे चढ़ गया है. तेल की कीमतों में हुई इस बढ़ोतरी के साथ ही 08 जुलाई को दिल्ली के घरेलू बाजार में पेट्रोल की कीमत बढ़कर 100.56 रुपये प्रति लीटर हो गई है.

दिल्ली में आज पेट्रोल 0.35 रुपये बढ़कर 100.56 रुपये प्रति लीटर है. डीजल आज 0.09 रुपये बढ़कर 89.62 रुपये प्रति लीटर है. मध्‍य प्रदेश की राजधानी भोपाल की बात करें तो यहां पेट्रोल 0.25 रुपये बढ़कर 108.88 रुपये प्रति लीटर और डीज़ल बिना किसी बदलाव के 98.40 रुपये प्रति लीटर है. इधर कोलकाता में पेट्रोल 0.39 रुपये बढ़कर 100.62 रु. प्रति लीटर और डीज़ल 0.15 रुपये बढ़कर 92.65 रु. प्रति लीटर है.

आपको बता दें कि भारतीय विदेश सेवा के सेवानिवृत्त अधिकारी हरदीप सिंह पुरी को राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) के रूप में उनके बेहतरीन काम को देखते हुए कैबिनेट मंत्री के तौर पर मंत्रिमंडल में प्रधानमंत्री ने जगह दी है. 69 वर्ष के पुरी इस समय भाजपा की ओर से राज्यसभा सदस्य हैं. उन्हें 03 सितंबर 2017 को आवास एवं शहरी विकास विकास मंत्रालय का स्वतंत्र प्रभार सौंपने का काम किया गया था.

पीएम मोदी का जीता विश्वास : मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल की बात करें तो पुरी को आवास एवं शहरी विकास के साथ नागरिक उड्डयन मंत्रालय की भी जिम्मेदारी दी गई. साथ ही उन्हें वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय में राज्य मंत्री भी बनाने का काम किया गया. ऐसा माना जाता है कि शहरी विकास मंत्री के रूप में अपने काम से पुरी ने पार्टी के शीर्ष नेतृत्व और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का विश्वास जीता जिसका उन्हें ईनाम भी मिला. कोरोना महामारी के वक्त विदेशों में फंसे भारतीयों को स्वदेश लाने के लिए नागरिक उड्डयन मंत्रालय के वंदे भारत मिशन की भी काफी सराहना दुनिया में हुई. पुरी के काम को देखते हुए उन्हें मंत्रिमंडल में प्रोन्नत किया गया है.

1974 में भारतीय विदेश सेवा के लिए चुने गये : हरदीप सिंह पुरी वर्ष 1974 में भारतीय विदेश सेवा के लिए चुने गये थे. वह जापान, स्विटजरलैंड, श्रीलंका, अंकटाड, यूएनडीपी, ब्रिटेन, संयुक्त राष्ट्र, ब्राजील आदि में देश का प्रतिनिधित्व करने का काम कर चुके हैं. यही नहीं पुरी अंतररष्ट्रीय शांति संस्थान में उपाध्यक्ष और वरिष्ठ सलाहकार की जिम्मेदारी भी निभा चुके हैं.

Related Post