Fri. Jun 21st, 2024

जलापूर्ति योजना से क्षतिग्रस्त हो चुकी सभी सड़कों का विधायक मंगल कालिंदी ने विभागीय अधिकारियों के साथ किया निरक्षण

By Rajdhani News Jun 29, 2021 #mla

पिछली सरकार के कार्यकाल में 237 करोड़ की योजना के कार्य में बंदरबांट हुआ है : मंगल कालिंदी

पाइप लाइन के कार्य के दौरान हुए गड्ढों को नहीं भरा गया तो अधिकारियों और ठेकेदारों पर होगी कार्रवाई : मंगल कालिंदी

गोविंदपुर क्षेत्र में जलापूर्ति योजना के तहत क्षतिग्रस्त हो चुकी सभी सड़कों की मरम्मत को लेकर और पाइप लाइन के कार्य के दौरान पाइप लाइन डालने के लिए खोदी गई सड़कों को रिपेयर नहीं करने की वजह से काफी जगहों पर बारिश के कारण कीचड़ और गड्ढे हो जाने से लोगों का पैदल चलना भी मुश्किल हो गया है।केबल का कार्य भी जिस जिस जगह पर किया गया है वहां भी अनियमितता बरती गई है| काम करने के बाद ठेकेदारों द्वारा गड्ढों को नहीं भरा गया जिसकी वजह से स्थानीय लोगों को काफी मुश्किल का सामना करना पड़ रहा है| जिसको लेकर विधायक मंगल कालिंदी ने आज सुधार यात्रा के तहत गोविंदपुर, गदड़ा, राहरगेड़ा, बारिगेड़ा, सरजामदा, शंकरपुरा, मनगोड़ा,सोपोडेरा, परसुडीह, हलुदबनी, मखदमपुर, आदि क्षेत्रों में पेयजल विभाग के अधिकारियों के साथ मार्ग का पैदल निरीक्षण किया। विधायक ने विभिन्न स्थलों पर ले जाकर अधिकारियों को स्थिति से अवगत कराया और पाइप लाइन के कार्य करने वाली और केबल का कार्य करने वाले ठेकेदार को भी उक्त स्थलों पर बुलाया, उसे चेतावनी दी कि 15 दिनों के अंदर अगर गड्ढों को भरा नहीं गया तो कार्रवाई कराई जाएगी। मौके पर विधायक ने अधिकारियों से इस कार में निगरानी रखने को भी कहा। इस कार्य में हो रही लापरवाही को लेकर गुरुवार को विधायक मंगल कालिंदी ने पेयजल मंत्री मिथिलेश ठाकुर से भी मुलाकात की थी जिस पर संज्ञान लेते हुए मंत्री ने अधिकारियों को विधायक मंगल कालिंदी के साथ क्षेत्र का निरीक्षण करने का आदेश भी दिया और जल्द से जल्द समस्या का समाधान करने का भी आदेश दिया था। विधायक मंगल कालिंदी ने मौके पर कहा कि जनता ने मुझे बहुत विश्वास से जिताया है उनकी हर एक परेशानी को दूर करना मेरा कर्तव्य है। इस दौरान उन्होंने अधिकारियों से कहा कि गलत लोगों को पेटी देने का ही परिणाम है कि आज यह परेशानी लोगों को झेलना पड़ रहा है। पिछली सरकार के कार्यकाल में 237 करोड़ की योजना के कार्य में बंदरबांट हुआ है। इधर विधायक ने अधिकारियों को फटकार भी लगाई।

Related Post