बंगाल में चुनावी हिंसा के विरोध में शहर के भाजपाई देंगे घरों में धरना, अत्याचार के विरुद्ध बंगाल के कार्यकर्ताओं को देंगे समर्थन। 

0
263
गुंजन यादव

■ लोकतंत्र का काला अध्याय लिख रही टीएमसी: गुँजन यादव

जमशेदपुर। पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के परिणाम आने के साथ ही बंगाल के विभिन्न क्षेत्रों में राजनीतिक हिंसा का दौर शुरू हो गया है। नतीजे वाले दिन ही आरामबाग में भाजपा के दफ्तर में आग लगा दी गई थी। टीएमसी कार्यकर्ताओं द्वारा लगातार भाजपा कार्यकर्ताओं की हो रही हत्या, घरों-दुकानों की लूट एवं मारपीट की घटना पर भाजपा कार्यकर्ता आक्रोशित हैं। भाजपा ने इसे लेकर बुधवार को देशव्यापी धरना प्रदर्शन करने का फैसला किया है। इसी क्रम में मंगलवार को भाजपा जमशेदपुर महानगर अध्यक्ष गुँजन यादव ने जिला पदाधिकारियों एवं मोर्चा अध्यक्षों की वर्चुअल बैठक ली। बैठक को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि बंगाल में हो रही घटना अति निंदनीय एवं दुर्भाग्यपूर्ण है। बंगाल की राजनीतिक हिंसा स्वस्थ लोकतंत्र की परिचायक नहीं है। ऐसी हिंसा एवं घृणित कृत्यों का लोकतंत्र में कोई स्थान नहीं है। उन्होंने बताया कि बंगाल में टीएमसी के गुंडों द्वारा किये जा रहे तांड़व पर जमशेदपुर महानगर के कार्यकर्ता एकदिवसीय धरना-प्रदर्शन कर बंगाल के कार्यकर्ताओं को समर्थन देंगे। जमशेदपुर में कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रभाव के मद्देनजर कार्यकर्ता अपने घरों से पूर्वाह्न 11 बजे से 1 बजे तक धरना-प्रदर्शन में हिस्सा लेंगे। उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी के संकटकाल मे जहां मानव समाज एक-दूसरे की जान बचाने और सहयोग के लिये कार्यरत हैं, वहीं पश्चिम बंगाल में तृणमूल कांग्रेस के उपद्रवी तत्व लगातार भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं पर आक्रमण और हिंसा कर रहे हैं। कई कार्यकर्ताओं की चुनाव के उपरांत हत्या कर दी गई हजारों की संख्या में कार्यकर्ता घायल हैं तथा पार्टी के कई कार्यालयों में तोड़-फोड़ तथा आगजनी की घटना हो रही है। यह लोकतंत्र का काला अध्याय तृणमूल कांग्रेस के द्वारा लिखा जा रहा है। ऐसी घटना पर भाजपा कार्यकर्ता आक्रोशित हैं।

बैठक के दौरान जिला उपाध्यक्ष सुधांशु ओझा, संजीव सिन्हा, महामंत्री अनिल मोदी, राकेश सिंह, जिला मंत्री पुष्पा तिर्की, जितेंद्र राय, मंजीत सिंह, नीलू मछुआ, पप्पू सिंह, मनोज राम, कोषाध्यक्ष राजीव सिंह, कार्यालय प्रभारी बोलटू सरकार, मीडिया प्रभारी प्रेम झा, आईटी सेल प्रभारी नारायण पोद्दार, कौस्तव रॉय, मणि मोहंती, सोशल मीडिया प्रभारी बिनोद कुमार सिंह, ज्ञान प्रकाश, राकेश बाबू समेत भाजयुमो जिलाध्यक्ष अमित अग्रवाल, ओबीसी मोर्चा अध्यक्ष धर्मेंद्र प्रसाद, किसान मोर्चा अध्यक्ष मुचीराम बाउरी, महिला मोर्चा अध्यक्ष ज्योति अधिकारी, अल्पसंख्यक मोर्चा अध्यक्ष मोहम्मद निसार, अनुसूचित जाति मोर्चा अध्यक्ष अजीत कालिंदी, अनुसूचित जनजाति मोर्चा अध्यक्ष बीनानंद सिरका शामिल थे।