Sat. Apr 20th, 2024

देश के 10 राज्यों में बर्ड फ्लू की पुष्टि, कौवों-मैना की मौत से अब झारखंड में भी बड़ा संक्रमण का खतरा

By Rajdhani News Jan 12, 2021 #Bird flu

इंसान में बर्ड फ्लू संक्रमण की अभी कोई वैज्ञानिक रिपोर्ट सामने नहीं आई है. पशुपालन मंत्री गिरिराज सिंह ने कहा कि मानव में बर्ड फ्लू संचरण की कोई वैज्ञानिक रिपोर्ट नहीं है और ऐसे में घबराने की जरूरत नहीं है.

नई दिल्ली: देश के 10 राज्यों में बर्ड फ्लू की पुष्टि हो चुकी है. केरल, राजस्थान, मध्य प्रदेश, हिमाचल प्रदेश, हरियाणा, गुजरात, उत्तर प्रदेश, दिल्ली, उत्तराखंड और महाराष्ट्र में बर्ड फ्लू संक्रमण के नमूने मिले हैं. अब झारखंड में भी बर्ड फ्लू का प्रकोप होने की आशंका बढ़ गई है.

दुमका के जिला पशुपालन पदाधिकारी डॉ अवधेश कुमार सिंह ने बताया कि ग्रामीणों की सूचना पर वह टीम के साथ पोखरिया गांव पहुंचे जहां 40-50 पक्षियों को मृत पाया.

पक्षियों के नमूनों को जांच के लिए रांची भेजा गया है. जांच के बाद ही पता चल पाएगा कि ये पक्षी बर्ड फ्लू के कारण मरे हैं या इनकी मौत का कोई दूसरा कारण है. झुंड में पक्षियों की मौत का यह दुमका जिला में पहला मामला है.

केंद्र ने पक्षियों को मारने की कार्रवाई के लिए राज्यों को पर्याप्त संख्या में पीपीई किट और अन्य आवश्यक उपकरणों का भंडारण सुनिश्चित करने का भी निर्देश दिया है. वहीं, दिल्ली सरकार ने संजय झील में बत्तखों के बर्ड फ्लू से संक्रमित पाए जाने के बाद शहर के बाहर से चिकन लाकर बेचने पर सोमवार को पाबंदी लगा दी.

क्या है संक्रमित राज्यों की स्थिति

  • उत्तराखंड के देहरादून और ऋषिकेश में कई कौओं समेत करीब 200 पक्षी मृत मिले हैं. देहरादून के अलग-अलग हिस्सों में 165 पक्षी मृत मिले हैं, जिनमें से अकेले भंडारी बाग क्षेत्र में 121 कौए मृत पाए गए हैं.
  • उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर और बलिया जिलों में विभिन्न प्रजातियों के पक्षियों की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत की ताजा घटनाएं सामने आई हैं. राज्य में इस फ्लू की रोकथाम के लिए सतर्कता बढ़ा दी गई है.
  • महाराष्ट्र के परभणी, मुम्बई, बीड़ और दापोली में विभिन्न पक्षियों की मौत भोपाल की प्रयोगशाला की जांच रिपोर्ट के आधार पर एविएन इंफ्लूएंजा से होने की पुष्टि हुई है.
  • गुजरात के सूरत और वडोदरा जिलों में भी मृत कौओं के नमूनों की जांच में उनके एवियन इंफ्लुएंजा से संक्रमित पाए जाने के बाद दोनों जिलों में बर्ड फ्लू की पुष्टि हो गई है.
  • कानपुर चिड़ियाघर में मरे कुछ पक्षियों में बर्ड फ्लू पाए जाने के बाद लखनऊ प्राणी उद्यान प्रशासन ने अपने यहां पक्षियों के बाड़े को दर्शकों के लिए बंद कर दिया है. पक्षियों के आदान-प्रदान कार्यक्रम को भी अस्थाई तौर पर निलंबित कर दिया है.
  • यूपी के बरेली से प्राप्त रिपोर्ट के मुताबिक आईवीआरआई में पक्षियों के सैंपल की जांच सोमवार से युद्ध स्तर पर शुरू कर दी गयी है. एक दिन में लगभग 1200 नमूनों की जांच का अनुमान है.
  • राजस्थान में 371 और पक्षियों की मौत हो गई. राज्य के 15 जिले बर्ड फ्लू से प्रभावित है. पशुपालन विभाग के प्रवक्ता ने बताया कि राज्य में सोमवार को 371 और पक्षियों की मौत होने से राज्य में अब तक पक्षियों के मौत का आंकडा 3321 पहुंच गया है.
  • मध्य प्रदेश के 18 जिलों के कौओं और जंगली पक्षियों के नमूनों में बर्ड फ्लू का संक्रमण पाया गया है. प्रदेश में 26 दिसंबर से अब तक करीब 1500 कौओं और जंगली पक्षियों की मौत हुई है. प्रदेश के तीन जिलों इंदौर, नीमच और आगर मालवा में मांस की दुकानों में रखे गए करीब 600 मुर्गे-मुर्गियों को मार कर दफनाया गया है.

इंसान में बर्ड फ्लू की कोई वैज्ञानिक रिपोर्ट नहीं

केंद्र ने सोमवार को राज्यों से मुर्गा मंडियों को बंद नहीं करने और कुक्कुट उत्पादों की बिक्री प्रतिबंधित नहीं करने को कहा क्योंकि इंसान में बर्ड फ्लू संक्रमण की कोई वैज्ञानिक रिपोर्ट सामने नहीं आई है. पशुपालन मंत्री गिरिराज सिंह ने कहा कि मानव में बर्ड फ्लू संचरण की कोई वैज्ञानिक रिपोर्ट नहीं है और ऐसे में घबराने की जरूरत नहीं है.

उन्होंने कहा कि प्रभावित क्षेत्रों में पक्षियों को मारे जाने की कार्रवाई जारी है. साथ ही कहा कि देश में बर्ड फ्लू के लिए निवारक टीका उपलब्ध है.

 

Related Post