ग्रामसभा की मजबूती पर सरकार विशेष ध्यान दें: बिरसा सोय

0
314

राजीव गांधी पंचायती राज संगठन की एक बैठक बागबेड़ा में संपन्न हुई। जिसकी अध्यक्षता संगठन के जिला संयोजक सुनील गुप्ता ने किया। जबकि मुख्य अतिथि के रूप में संगठन के कोल्हान प्रमंडल प्रभारी बिरसा सोय उपस्थित थे।

बैठक को संबोधित करते हुए कोल्हान प्रमंडल प्रभारी बिरसा सोय ने कहा कि मुखिया या पंचायत प्रधान नाम कुछ भी हो पर जब तक योजना और उसका क्रियान्वयन नौकरशाह के द्वारा होगा और ग्राम सभा के सशक्तिकरण में छेद होता रहेगा। जब तक योजना गांव के गोद से नहीं निकलेगा तब तक समृद्ध गांव की कल्पना असंभव है ।

उन्होंने आगे कहा कि वर्तमान में दो तरह के फंड टाइड और अन-टाइड सरकार के द्वारा भेजी जाती है। परंतु गौर से देखा जाए तो यह दोनों ही टाइड मतलब बंधे हुए फंड है। जब तक गांव के ग्राम सभा से योजना का चयन नहीं होगा क्योंकि हर क्षेत्र या हर गांव की आवश्यकता अलग है, तब तक विकास एक जुमला ही साबित होगा।

जिला संयोजक सुनील गुप्ता ने कहा कि आज जो पंचायती राज व्यवस्था को छह माह के लिए प्रशासकीय समिति में बदला जा रहा है यह सरकार की सराहनीय पहल है, परंतु इसमें योजना गांव से बने और उसका सामाजिक अंकेक्षण यानी सोशल ऑडिट भी अनिवार्य है। इसलिए राजीव गांधी पंचायती राज संगठन ग्राम सभा के सशक्तिकरण तक चरणबद्ध जागरूकता अभियान जलाती रहेगी ।

बैठक में जिला उपाध्यक्ष अमल विश्वास, महासचिव कृष्णा देव पातर, संयोजक ठाकुर सोरेन, सोनाराम मुर्मू, उत्पल साहू सहित कई लोग उपस्थित थे।