मन की बात के विरोध में झारखंड राज्य किसान सभा ने बजाई मांदर और नगाड़ा

0
379
कहा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी किसानों की बात सुन कृषि बिल लें वापस : अयुब खान

Latehar चंदवा। किसान समन्वय संघर्ष समिति के देशव्यापी अह्वान पर झारखंड राज्य किसान सभा ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के आज मन की बात कार्यक्रम का किसानों ने खेत खलिहान में मांदर और नगाड़ा बजाकर विरोधर किया, पीएम मोदी ने जैसे ही मन की बात शुरू की वैसे ही किसानों ने मांदर और नगाड़ा बजाना शुरू कर दिया, इस कार्यक्रम में शामिल किसानों को संबोधित करते हुए झारखंड राज्य किसान सभा लातेहार जिला अध्यक्ष अयुब खान ने कहा कि भाजपा नेतृत्व वाली नरेंद्र मोदी सरकार मन की बात कर रहे हैं, लेकिन किसानों की बात कब करेंगे, मन की बात को शोर मे दबाने के लिए हम किसान मांदर और नगाड़ा बजा रहे हैं ताकि किसानों की आवाज दुख दर्द मोदी सरकार तक पहुंच सके, उन्होंने आगे कहा कि केंद्र के एनडीए सरकार द्वारा लाए गए काला कृषि कानून के खिलाफ दिल्ली सीमा समेत देश भर में किसान आंदोलन कर रहे हैं इस अन्नदाता किसानों से बात नहीं कर मोदी जी मन की बात कर देशवासियों को बरगलाते हैं, नौजवानों, मजदूरों, किसानों, बॉर्डर में लड़ रहे जवानों, छात्रों, दुकानदारों, व्यपारीयों और देश की आम जनता की बात नहीं सुनते मोदी जी शिर्फ अपनी मन की बात रेडियो में सुनाते और थोपते हैं, मन की बात मे आधे से अधिक बांते झुठ बोलते हैं, किसान हाड़कंपाती ठंढ में कृषि बिल को वापस लेने के लिए धरना दे रहें लेकिन सरकार हठधर्मी छोड़ नहीं रही है, कृषि बिल से जमाखोरों को फायदा होगा महंगाई बढ़ेगी इसका लाभ कॉरपोरेट घरानों को मिलेगा, खामियाजा देश के लोगों को भुगतना पड़ेगा, किसान देश के सभी लोगों के लिए लड़ रहे हैं, किसानों की लड़ाई में हम सभी साथ हैं, किसानों की बात मानें और कृषि बिल को रद्द करे सरकार, इस कार्यक्रम में बंधनु उरांव, देवनाथ उरांव, उमेश उरांव, बिरसा उरांव, पिचुआ उरांव, दिनेश उरांव, गनेश उरांव, रतनु उरांव, कार्तिक उरांव, इस्तेखार खान, धनेश्वर उरांव, पिंटू उरांव, नथुवा उरांव सहित दर्जनों किसान शामिल थे।

राजधानी न्यूज़ (लातेहार)बबलू खान की रिपोर्ट