Sat. Apr 20th, 2024

बिहार से चोरी का बुलेट चला रहे दुमका मुफस्सिल थाना के एएसआई नपे, हुए निलंबित

By Rajdhani News Dec 25, 2020 #bihar #bullet

दुमका, 24 दिसंबर (हि.स.। मुफस्सिल थाना का एक एएसआई चोरी का गाड़ी चलाते हुए तब पकड़या, जब वह गाड़ी की सर्विसिंग कराने के लिए रॉयल इनफिल्डि शेरूम पहुंचा तो मामला प्रकाश में आया। इसके बाद नगर थाना पुलिस शेरूम पहुंच जांच की। जानकारी के अनुसार बिहार के पटना जिले के साकेतपुरी थाना क्षेत्र में बुलेट चोरी हुई थी। चोरी का थाने में मामला भी दर्ज करवाया गया था। लेकिन गाड़ी पुलिस बरामद नहीं कर सकी। इसी बीच गाड़ी वर्तमान में पदस्थापित मुफस्सिल थाना के एएसाआई अखलाक खान के पास पहुंच गई। एएसआई बाकायदा बुलेट पर आगे बड़े अक्षरों में पुलिस लिखवा रखा था। वह आठ दिन पूर्व ही दुमका के मुफसिल थाना में पदस्थापित हुआ था। इससे पूर्व अखलाख खान सरैयाहाट में पदस्थापित था, जहां महीनों से वह इसी बुलेट पर सवारी कर रहा था।

बुधवार को उसने बुलेट को दुमका के सर्विस सेंटर में सर्विसिंग के लिए दिया तो बुलेट के असली मालिक के मोबाईल नंबर पर सर्विसिंग होने का मैसेज पहुंचा और तब जाकर चोरी गयी बुलेट एएसआई के पास होने का खुलासा हुआ।

बुलेट मालिक दिवाकर कुमार ने दुमका के डीसी को एक पत्र भेजकर बुलेट चोरी करनेवाले को सलाखों के पीछे भेजने का आग्रह किया है। एसपी अंबर लकड़ा ने इस मामला के सामने आने पर एएसआई अखलाक खान को निलंबित कर दिया है। एसपी ने बताया कि मुफसिल थाना में पदस्थापित एएसआई अखलाख खान को निलंबित कर दिया गया है। इस बात की जांच की जायेगी कि आखिर किस परिस्थिति में उसके पास चोरी की बुलेट आयी। उन्होंने बताया कि इसको लेकर दुमका में कोई मामला दर्ज नहीं किया गया है। चुकी बुलेट चोरी का मामला पहले से पटना के श्री कृष्णापुरी थाना में दर्ज है।

पटना के बोरिंग रोड इलाके में रहनेवाले बुलेट मालिक दिवाकर कुमार ने बताया है कि उसने यह बाईक 29 जून 2012 को खरीदी थी। जिसका रजिस्ट्रेशन नंबर बीआर 01बीएफ/4884 था। उसकी बुलेट मोटरसाइकिल वर्ष 2015 में उसके आवास के पास से चोरी हो गयी थी। जिसको लेकर उसने श्री कृणापुरी थाना में कांड संख्या 187/15 दर्ज करवाया था। 23 दिसंबर के शाम 6.30 बजे उसके मोबाईल पर मैसज आया कि गाड़ी की सर्विसिंग हो चुकी है। वह उसे ले जा सकते हैं। टॉल फ्री नंबर पर फोन करने पर पता चला कि उनका बुलेट दुमका के बुलेट सर्विस सेंटर में सर्विसिंग करवायी गयी है। जब उन्होंने सर्विस सेंटर में फोन किया तो बताया गया कि सेंटर बंद हो चुका है। उन्होंने श्री कृष्णपुरी थाना को इसकी सूचना दी तो वहां के पुलिस पदाधिकारियों ने दुमका पुलिस से बात की।

Related Post